दाईम्यो

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
सात्सुमा क्षेत्र के दाईम्यो, शिमजु नारिअकिरा 

 दाईम्यो (大名 daimyō?, उच्चारण ) यह मध्यकालीन जापान के सामंत या प्रान्तपाल थे जो काफी शक्तिशाली थे और सम्पूर्ण जापान में लगभग इन्ही का राज चलता था। "दाई" (?) इसका शाब्दिक अर्थ होता है  "बड़ा", और  "म्यो" यह शब्द ''म्योदेन'' (名田?) से आया है , जिसका अर्थ है निजी भूमि.[1]

जापान में १० सदी से लेकर १९ सदी तक शोगुन के बाद जापान में दाईम्यो का ही वर्चस्व था।

शुगो-दाईम्यो[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Kodansha Encyclopedia of Japan, entry for "daimyō"


बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]