दक्षिण तरावा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

प्रशांत महासागर

दक्षिण तरावा
लुआ त्रुटि Module:Location_map में पंक्ति 502 पर: Unable to find the specified location map definition: "Module:Location map/data/Kiribati" does not exist।
भूगोल
अवस्थिति प्रशांत महासागर
निर्देशांक 1°26′N 173°00′E / 1.433°N 173.000°E / 1.433; 173.000निर्देशांक: 1°26′N 173°00′E / 1.433°N 173.000°E / 1.433; 173.000
द्वीपसमूह गिल्बर्ट द्वीप समूह
क्षेत्रफल 15.76 km2 (6.085 sq mi)
अधिकतम ऊँचाई 3 m (10 ft)
प्रशासन

दक्षिण तरावा (गिल्बर्टिस में तारवा तेनैनानो), किरिबाती गणराज्य की राजधानी और प्रशासनिक केंद्र है। यहाँ किरीबाती की आबादी का लगभग आधा हिस्सा निवास करती है।[2] दक्षिण तरावा के आबादी का केंद्र पश्चिम में बेतिओ से पूर्व के बोनरीकी के सभी छोटे द्वीप तक हैं, जो दक्षिण तरावा के मुख्य सड़क से जुड़े हुए हैं, 2010 की जनगणना के अनुसार यहां की जनसंख्या 50,182 थी।[1]

दक्षिण तारावा में, किरीबाती के अधिकांश सरकारी, वाणिज्यिक और शिक्षण संस्थान स्थित है, जिसमें बेटियो बन्दरगाह और उच्च न्यायालय, स्टेट हाउस, बैरिकी में सरकारी मंत्रालय और विदेशी उच्चायोग, टेयरेरेके में दक्षिण प्रशांत विश्वविद्यालय परिसर, एम्बो में असेंबली हाउस, किरिबाती टीचर कॉलेज और किंग जॉर्ज वी और ईलेन बर्नाची स्कूल, बीकेंबेबू का सरकारी हाई स्कूल[3] और नवेरेवेरे में केंद्रीय अस्पताल आदि शामिल है।

इतिहास[संपादित करें]

तरावा द्वीप, किरिबाती पौराणिक कथाओं और संस्कृति का केंद्र है, लेकिन दक्षिण तरावा पर जीवन अन्य द्वीपों से थोड़ा अलग है, इसे गिल्बर्ट और एलिस द्वीप समूह के संरक्षक के लिए औपनिवेशिक सरकार के केन्द्र के रूप में चुना गया था।

बेतिवा तारावा की लड़ाई का स्थान था।

भूगोल[संपादित करें]

दक्षिण तरवा, लैगून और महासागर के बीच स्थित भूमि की एक संकीर्ण पट्टी है

दक्षिण तारवा, उत्तर में तारवा लैगून के बीच स्थित छोटे द्वीपों की एक श्रंखला है, जिसकी गहराई 25 मीटर (82 फीट) तक है और दक्षिण में प्रशांत महासागर है, जोकि 4,000 मीटर (13,000 फीट) गहरा है।[4] यह छोटे द्वीप, लैगून के तलछट से बने है।[5]

मिट्टी के संचय की प्रक्रिया प्रमुख ईस्टर्नली व्यापार हवाओं द्वारा संचालित होती है और एल नीनो-दक्षिणी ऑसीलेशन के दौरान पश्चिमी हवाओं की विस्तारित अवधि के दौरान उलट भी जा सकती है।[6]

ये छोटे द्वीप अब सेतु-रोड से जुड़े हुए हैं, जो तरावा लैगून के दक्षिणी किनारे के साथ चट्टान पर एक लंबा छोट-द्वीप बनाते हैं। दक्षिण तरावा का अधिकांश हिस्सा समुद्र तल से 3 मीटर (9.8 फीट) से कम ऊंचा है, जिसकी 450 मीटर (1,480 फीट) की औसतन चौड़ाई है।[7]

अर्थव्यवस्था[संपादित करें]

दक्षिण तरावा, मुख्य बंदरगाह और हवाई अड्डे और राज्य के स्वामित्व वाले उद्यमों और निजी व्यवसायों के स्थान किरिबाती का आर्थिक केंद्र है।

आयात, निर्यात से ज्यादा होता है, और दक्षिण तरावा के अधिकांश घर, सरकारी रोजगार और विदेशों में काम करने वाले रिश्तेदारों से प्राप्त आर्थिक पर निर्भर रहते हैं। बेरोजगारी एक गंभीर समस्या है; 2010 में केवल 34% शहरी वयस्कों (15 वर्ष से अधिक) नकद काम में लगे थे; शेष दो तिहाई या तो श्रम बल, बेरोजगार या निर्वाह गतिविधियों में लगे हुए हैं। विशेष रूप से युवा के बेरोजगार होने की संभावना अधिक होती हैं।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Kiribati Census Report 2010 Volume 1" (PDF). National Statistics Office, Ministry of Finance and Economic Development, Government of Kiribati. मूल (PDF) से 10 अगस्त 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 17 मार्च 2013.
  2. Country files at earth-info.nga.mil Archived 12 अगस्त 2005 at the वेबैक मशीन.
  3. "6. South Tarawa" (PDF). Office of Te Beretitent – Republic of Kiribati Island Report Series. 2012. मूल (PDF) से 23 सितंबर 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 April 2015.
  4. Martin 2000, पृ॰ 152.
  5. Schofield 1977, पृ॰ 533.
  6. Chaoxiong 2001, पृ॰ 6.
  7. "South Tarawa Island Report". Government of Kiribati.