त्साओ वेई राज्य (प्राचीन चीन)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
सन् २६२ ईसवी में त्साओ वेई (Wei) राज्य के क्षेत्र (पीले रंग में)

त्साओ वेई राज्य (चीनी भाषा: 曹魏, अंग्रेज़ी: Cao Wei), जिसे कभी-कभी सिर्फ़ 'वेई राज्य' भी कहा जाता है, प्राचीन चीन के तीन राजशाहियों के काल में चीन पर नियंत्रण पाने के लिए जूझने वाला एक राज्य था। यह २२० ईसवी से २६५ ईसवी तक चला। इसकी स्थापना २२० ईसवी में त्साओ पी (曹丕, Cao Pi) ने की थी जिसनें अपने पिता त्साओ त्साओ की बनाई ज़मीनदारी रियासत का विस्तार करके इस राज्य को बनाया। वैसे तो त्साओ त्साओ की रियासत को सन् २१३ ईसवी में सिर्फ़ 'वेई' नाम दिया गया था, लेकिन इतिहासकार इसे चीनी इतिहास में आये बहुत से अन्य वेई नामक राज्यों से अलग बताने के लिए इसमें 'त्साओ' का पारिवारिक नाम जोड़कर इसे अक्सर 'त्साओ वेई' कहते हैं। ध्यान दीजिये कि यह राज्य झगड़ते राज्यों के काल वाले वेई राज्य और बाद में आने वाले उत्तरी वेई राज्य से भिन्न था।

२२० ईसवी में त्साओ पी ने पूर्वी हान राजवंश के अंतिम सम्राट को सिंहासन से हटा दिया। उसने एक नए 'वेई' वंश को शुरू किया लेकिन उसपर 'सीमा' नामक परिवार ने २४९ ईसवी में क़ब्ज़ा कर लिया। २६५ में यह परिवार भी सत्ता से निकाला गया और त्साओ वेई राज्य जिन राजवंश का हिस्सा बन गया। एक समय पर हान चीनी जाती के दो-तिहाई लोग त्साओ वेई राज्य की सरहदों के अन्दर बसते थे।[1] इसकी राजधानी लुओयांग शहर था।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. China: A History: From Neolithic Cultures Through the Great Qing Empire, 10,000 BCE - 1799 CE, Harold M. Tanner, Hackett Publishing, 2010, ISBN 978-1-60384-202-0, ... When it was established, Wu had only one-sixth of the population of the Eastern Han Empire (Cao Wei held over two-thirds of the Han population) ...