तीव्र रेडियो प्रस्फोट

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

रेडियोखगोलिकी में तीव्र रेडियो प्रस्फोट (fast radio burst) या ऍफ़॰आर॰बी॰ (FRB) अज्ञात कारणों से उत्पन्न एक बहुत अधिक ऊर्जावान खगोलभौतिक परिघटना होती है जिसमें बहुत-ही संकुचित समय के लिए एक रेडियो संकेत प्रकट होती है। यह औसतन कुछ मिलिसैकण्ड के लिए ही जारी रहते हैं और हमारी गैलेक्सी से बाहर ही उत्पन्न होते हैं। सर्वप्रथम तीव्र रेडियो प्रस्फोट सन् २००७ में डन्कन लोरीमर और डेविड नारकेविक द्वारा पल्सरों से मिलने वाले संकेतों के अध्ययन में पाया गया था, जिस वजह से इसे "लोरीमर प्रस्फोट" (Lorimer Burst) कहा जाता है। उसके बाद से कई तीव्र रेडियो प्रस्फोट मिल चुके हैं, जिनमें से एक स्वयं को दोहराता भी है।[1][2]

अगर तीव्र रेडियो प्रस्फोट ध्रुवित हों तो इसका अर्थ है कि वह किसी शक्तिशाली चुम्बकीय क्षेत्र से उत्सर्जित हुए हैं। [3] इन प्रस्फोटों का स्रोत अज्ञात है लेकिन वैज्ञानिक इसका न्यूट्रॉन तारा, कालाछिद्र या परग्रही बुद्धि होने का दावा करते हैं।[4][5] ऍफ़॰आर॰बी॰ 121102 (FRB 121102) एकमात्र ज्ञात दोहराता हुआ तीव्र रेडियो प्रस्फोट है। यह हमारी गैलेक्सी, क्षीरमार्ग, से लगभग ३ अरब प्रकाशवर्ष दूर ब्रह्मा तारामंडल (ऑराइगा तारामंडल) की दिशा में स्थित किसी गैलेक्सी से आता है।[6][7]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Mann, Adam (28 March 2017). "Core Concept: Unraveling the enigma of fast radio bursts". Proc Natl Acad Sci U S A. 114 (13): 3269–3271. PMC 5380068. PMID 28351957. डीओआइ:10.1073/pnas.1703512114. बिबकोड:2017PNAS..114.3269M.
  2. Overbye, Dennis (10 January 2018). "Magnetic Secrets of Mysterious Radio Bursts in a Faraway Galaxy". The New York Times. अभिगमन तिथि 11 January 2018.
  3. D. Michilli, A. Seymour, J। W. T. Hessels, L. G. Spitler, V. Gajjar, A. M. Archibald, G. C. Bower, S. Chatterjee, J. M. Cordes, K. Gourdji, G. H. Heald, V. M. Kaspi, C. J. Law, C. Sobey, E. A. K. Adams, C. G. Bassa, S. Bogdanov, C. Brinkman, P. Demorest, F. Fernandez, G. Hellbourg, T. J. W. Lazio, R. S. Lynch, N. Maddox, B. Marcote, M. A. McLaughlin, Z. Paragi, S. M. Ransom, P. Scholz, A. P. V. Siemion, S. P. Tendulkar, P. Van Rooy, R. S। Wharton & D. Whitlow (11 January 2018). "An extreme magneto-ionic environment associated with the fast radio burst source FRB 121102". Nature. 553 (7687): 182–185. arXiv:1801.03965. PMID 29323297. डीओआइ:10.1038/nature25149. बिबकोड:2018Natur.553..182M.
  4. Devlin, Hannah (10 January 2018). "Astronomers may be closing in on source of mysterious fast radio bursts". The Guardian.
  5. Strickland, Ashley (January 10, 2018). "What's sending mysterious repeating fast radio bursts in space?". CNN.
  6. Chatterjee, S.; Law, C. J.; Wharton, R. S.; Burke-Spolaor, S.; Hessels, J. W. T.; Bower, G. C.; Cordes, J. M.; Tendulkar, S. P.; Bassa, C. G. (January 2017). "A direct localization of a fast radio burst and its host". Nature (अंग्रेज़ी में). 541 (7635): 58–61. arXiv:1701.01098. PMID 28054614. आइ॰एस॰एस॰एन॰ 1476-4687. डीओआइ:10.1038/nature20797. बिबकोड:2017Natur.541...58C.
  7. Michilli, D.; Seymour, A.; Hessels, J. W. T.; Spitler, L. G.; Gajjar, V.; Archibald, A. M.; Bower, G. C.; Chatterjee, S.; Cordes, J. M. (January 2018). "An extreme magneto-ionic environment associated with the fast radio burst source FRB 121102". Nature (अंग्रेज़ी में). 553 (7687): 182–185. arXiv:1801.03965. PMID 29323297. आइ॰एस॰एस॰एन॰ 0028-0836. डीओआइ:10.1038/nature25149. बिबकोड:2018Natur.553..182M.