तय्यब जी अब्बास

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

तय्यब जी अब्बास बंबई के प्रसिद्ध तय्यब जी खानदान में पैदा हुए थे। पहले बड़ौदा में जज रहे, फिर रिटायर होने के बाद कांग्रेस में शामिल हो गए। सन् १९२१ ई० में दाढ़वार फायरिग को जाँच के लिये कांग्रेस कार्यसमिति द्वारा नियुक्त कमेटी के आप अध्यक्ष थे। अप्रैल, १९३० ई० में जो मशहूर डांडीमार्च गांधी जी ने किया था ओर नमक का कानून तोड़ा था, उसमें अब्बास तय्यब जी भी उनके साथ थे और यह तय हुआ कि गाँधी जी की गिरफ्तारी के बाद कांग्रेस की बागडोर आप सँभालेंगें। आपका समूचा परिवार भारतीय राष्ट्र का सेवक रहा है। भारत के राष्ट्रीय मुस्लिम घरानों में तय्यब जी का घराना अग्रणी रहा है।