तना

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
एक पौधे का तना

पौधे का वह भाग जो भुमि के ऊपर भ्रूण के प्रांकुर से विकसित होकर पृथ्वी के गुरूत्वाकर्षण के विपरीत प्रकाश की ओर बढ़ता है, तना कहलाता है। इससे शाखाएँ, पत्ते, फूल और फल उत्पन्न होते हैं।

मूल संरचना[संपादित करें]

तने का विकास प्रांकुर द्वारा होता है।