जुस्तिनियन द्वितीय

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

जुस्तिनिअन द्वितीय (Justinian II ; 669 – 11 दिसम्बर 711) बाइजेण्टाइन साम्राज्य (पूर्वी रोमन साम्राज्य) का अन्तिम शासक था जिसने 685 से 695 तथा पुनः 705 से 711 तक शासन किया।

जुस्तिनियन द्वितीय अपने पिता, कांसटेनटाइन चतुर्थ की मृत्यु के बाद सन् ६८५ में वह सिंहासनारूढ़ हुआ। उसने अरबों पर सफलतापूर्वक आक्रमण किया किंतु बाद में उनसे संधि कर ली। अनेक कूर कृत्यों के कारण तथा खर्चीले शासन के लिये प्रजा से धन वसूल करने में सख्ती करने से विद्रोह की आग भड़क उठी, जिससे ६९५ में उसके सेनापति लियोनटिअस ने उसे गद्दी से उतार दिया। १५ हजार अश्वारोही सेना इकट्ठी कर सन् ७०४ में उसने कुस्तुनतुनियाँ पर हमला किया और पुन: सिंहासनारूढ़ हो गया। उसकी क्रूरताओं के कारण एक बार फिर जनता में तथा सामान्य वर्ग में असंतोष व्याप्त हो गया और फिलिपिकस बार्डेस द्वारा उसका वध कर दिया गया।