जाली ईमेल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

ईमेल स्पूफिंग एक जाली प्रेषक पते के साथ ई-मेल संदेशों की रचना है। ऐसा करना आसान है क्योंकि कोर प्रोटोकॉल में इसके प्रमाणन के लिए कोई तंत्र नहीं है। यह एक लैन के द्वारा या ट्रोजन घोड़ों का उपयोग कर एक बाहरी वातावरण से पूरा किया जा सकता है। स्पैम और फ़िशिंग ईमेल आम तौर पर संदेश की उत्पत्ति के बारे में प्राप्तकर्ता को गुमराह करते हैं।

तकनीकी विवरण[संपादित करें]

जब एक एसएमटीपी (SMTP) ईमेल भेजा जाता है, तो प्रारंभिक कनेक्शन का पता सूचना के दो टुकड़े प्रदान करता है:

-मेल फ्रॉम :- आम तौर पर वापसी पथ के रूप में प्राप्तकर्ता को प्रस्तुत : हेडर लेकिन अंत उपयोगकर्ता को सामान्य रूप से दिखाई नहीं देता , और डिफ़ॉल्ट रूप भेजने वाले उस पते को कोई नहीं जंचता की उसे भेजने के लिए अधिकृत किया गया है या नहीं।

-मेल प्राप्तकर्ता : - ईमेल के लिए दिया जाता है, जो ई-मेल पता निर्दिष्ट , अंत उपयोगकर्ता को सामान्य रूप से दिखाई नहीं देता है लेकिन " प्राप्त:" के हैडर भाग के रूप में मौजूद हो सकता है।

एक साथ इन्हें कभी कभी एक पारंपरिक कागज लिफाफे के साथ सादृश्य द्वारा संबोधित "लिफाफा " के रूप में करने के लिए भेजा जाता है।

जब एक बार प्राप्तकर्ता मेल सर्वर सिग्नल देता है की ये २ चीजे स्वीकार कर ली गयी है , तो प्रेषक तंत्र DATA भेजने का आदेश देता है और आम तौर पर कई हेडर आइटम भेजता है जैसे की

फ्रॉम :ch.sharma

<ch.sharma@example.com> - प्राप्तकर्ता को दिखाई पता; लेकिन फिर, डिफ़ॉल्ट रूपभेजने वाले उस पते को कोई नहीं जांचता की वो भेजने क लिए अधिकृत है या नहीं। 

प्राप्तकर्ता :-sharma Chotu <sharma.Chotu@example.com> इसी तरह से जाँच नहीं की गयी।

परिणाम ईमेल प्राप्तकर्ता के पते से आया होने के रूप में ईमेल देखता है जो कि इन: हैडर क अन्दर है ; वे कभी कभी पते से मेल खोजने के लिए सक्षम हो सकता है और अगर वे इस मेल का उत्तर देने की कोशिश करते है तो या तो ये 'मेल फ्रॉम'या फिर रिप्लाई to क पते पर जायेगा। 

लेकिन इन पतों में से कोई भी आम तौर पर विश्वसनीय नहीं है, तो स्वचालित उछाल संदेशों का backscatter उत्पन्न हो सकता है।

स्पैम और कीड़े (वर्म्स) का प्रयोग।