जल छनित्र

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

जल के अशुद्धता के आधार पर शोधन दो प्रकार का होता है जिसमे पहला सामान्य जल तथा दूसरा गन्दा जल होता है ।

(क) सामान्य जल

(ख) गन्दा जल

जल को शुद्ध करने के लिए भौतिक तथा रासायनिक विधि को अपनाया जाता है।

सामान्य जल[संपादित करें]

सामान्य जल जिसे कोई व्यक्ति जल पी सकता है। यदि जल थोड़ी बहुत अशुद्धता रखता है तो उसे शुद्ध करने के कुछ प्रोसेस है जो निम्न है

1 जल का छानना(water filtration)

इसमे एक टैंक होता है जिसमे लगभग एक आकार के रेत(sand) के कण होते हैं। इसमे जल छनकर जाता है यह भौतिक प्रक्रिया है।

2. कार्बन फिल्ट्रेशन( carbon filtration)

इसमे कोयला(coal) होता है जो पानी की गंध को दूर करता है और उसे मीठा बनाता है

3. रिवर्स परासरण(RO-Reverse Osmosis)

इसमे परासरण विधि के द्वारा जल को घुमा घुमा के उसमे से छोटे वैक्टीरिया तथा कीटाणुओ को अलग करता है ।

4. अल्ट्रावायलेट विधि(UV)

इसमे अल्ट्रावायलेट विकिरणों को पानी मे डालने से इसमे जीवाणु वैक्टीरिया मर जाते हैं ।