छ्त्रक शिला

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
ईजिप्ट में छ्त्रक शिला

मरुस्थली भागों मे यदि कठोर शैल के रूप मे ऊपरी आवरण के नीचे कोमल शैल लम्बवत रूप में मिलती हैं तो उस पर पवन के अपघर्षण के प्रभाव से विचित्र प्रकार के स्थलरुप ला निर्मान होता हैं, किसकी आक्रती छतरीनुमा होती हैं।