चैत्र शुक्ल प्रतिपदा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search


<< चैत्र >>
सो मं बु गु शु
१ शु २ शु ३ शु ४ शु ५ शु
६ शु ७ शु ८ शु ९ शु १० शु ११ शु १२ शु
१३ शु १४ शु पूर्णिमा १ कृ २ कृ ३ कृ ४ कृ
५ कृ ६ कृ ७ कृ ८ कृ ९ कृ १० कृ ११ कृ
१२ कृ १३ कृ १४ कृ अमावस्या
2019

चैत्र शुक्ल प्रतिपदा भारतीयपंचांग [1] के अनुसार प्रथम माह की प्रथम तिथि है, वर्षान्त में अभी ३५९ तिथियाँ अवशिष्ट हैं।

पर्व एवं उत्सव[संपादित करें]

  • नवसंवत्सर, नव वर्ष
  • गुड़ी पड़वा
  • युगादि

प्रमुख घटनाएँ[संपादित करें]

  • पुराणों के अनुसार, सृष्टि का निर्माण चैत्र शुक्ल प्रतिपदा के दिन से आरंभ हुआ। [2] [3]

जन्म[संपादित करें]

निधन[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाह्य कड़ीयाँ[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. http://archive.india.gov.in/hindi/knowindia/national_symbols.php?id=10
  2. चैत्रसितादेर्भानो-र्वर्षर्ष्ठुमासयुगकल्पाः।
    सृष्ट्यादौ लंकायामिह प्रवृत्ताः दिनैर्वत्स!।। - ब्रह्मसिद्धान्तः
  3. चैत्रे मासि जगद्ब्रह्मा ससज प्रथमेऽहनि।।
    शुक्लपक्षे समग्रं वै तदा सूर्योदये सति।। नारदपुराणम्, पूर्वार्धः, अध्यायः - ११०, श्लोकः - ५