ग्राफीन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
ग्रेफीन की संरचना

यह एक अणु की मुटाई वाली सामान्य कार्बन की एक पतली परत है जो विलक्षण गुण प्रदर्शित करती है। इसकी खोज आंद्रे जीम (51) और कोंसटांटिन नोवोसेलोव (36) ने की जिसके लिए उन्हें वर्ष 2010 का भौतिकी के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

Graphene कार्बन की ही एक फॉर्म हैऔर ये एक मटेरियल 2d (पदार्थ) है . अब ये मटेरियल 2D कैसे है ,वो ऐसे है की इस मटेरियल को Thickness (मोटाई) नहीं है .ये सिर्फ एक Atom की फ्लैट लेयर (सपाट परत)है .और इसे दुनिया का सबसे मजबूत मटेरियल माना गया है . ये स्टिल से भी 100 Guna ज्यादा मजबूत है . और सबसे बड़ी बात कि इसका भर (वेट) बिलकुल नहीं है . इसकी 1 Square Meter की शीट का वजन 0.77 Gms .और Material Highly Conductive , जो की Heat Energy Ya Electrical Conduction को 0% Loss Ke के साथ टांसफर कर सकता है . और इसकी जो. Flexibility है वो बहुत ही ज्यादा है बहुत ही आसानी से खिंच सकते है . और इस मटेरियल में इतने फीचर्स है की हम सोच भी नहीं सकते है ये मटेरियल एक तरह से पूरी दुनिया को बदल सकता है , क्योंकि इसमें इतने फीचर है कि इसका उपयोग हर जगह हर फील्ड में किया जा सकता है .

Graphene क्या है और क्या काम आता है

जैसा की मैंने बताया की ये हर फील्ड में काम करेगा , इस मटेरियल का इस्तेमाल हर इलेक्ट्रॉनिक और नॉन- इलेक्ट्रॉनिक प्रोडक्ट बनाने के लिए किया जा सकता है, ये हाई Conductive है साथ ही साथ Flexible भी है तो ऐसे मटेरियल से हम बहुत से प्रोडक्ट बना सकते है .अब हम इसका इस्तेमाल किस लिए कर सकते है इसके कुछ पॉइंट बता देता हु .

1. Rust Proofing (जंग रोधक )

अगर किसी भी पेंट में ग्राफेन मिला कर किसी चीज को पेंट किया जाये चाहे वो फिर कोई कार हो ऐसी कोई भी चीज जिसे जंग लग जाता है अगर उसे इसके साथ पेंट किया जायेगा तो वो चीज हमेशा के लिए रस्ट प्रूफ हो जायेगी उसे कभी भी जंग नहीं लगेगा.

2. Water Filter (पानी को निथारना)

जैसा की ऊपर फोटो में आपने देखा है की ये दिखने में एक जाल के जैसा है लेकिन ये जल के जैसा ऐसे नहीं दिखता Normally देखने पर इसमें आपको Holes (छिद्र ) दिखाई नहीं देते .लेकिन ये होल इसमें होते है जिसकी मदद से इसके पानी को साफ़ करना इसके लिए बहुत आसान सा काम है .

3.Speaker Aur Mic

Graphene जो है ये Diaphragm की तरह भी काम कर सकता है . और इसमें जब Electrical Energy देंगे तो ये बहुत बढ़िया क्वालिटी की साउंड प्रोड्यूस करेगा .और ये बहुत ही छोटे Earphoneमें भी बहुत ही बढ़िया साउंड बन सकेगा .

4. Artificial Muscle (कृत्रिम मांसपेशिया )

जैसा की मैंने पहले ही बताया है कि ये बहुत ही Flexible इसका फायदा Artificial बनाने में बहुत ही फायदेमंद होगा है इसे.

5. Super Capacitor

सुपर Capacitor एक ऐसी टेक्निक है जिसकी मदद से आप अपने फ़ोन को सिर्फ 5-10 मिनट तक चार्ज करे और फिर 10-15 दिन तक उसे इस्तेमाल करे , उसे बार बार चार्ज करने की जरूरत नहीं पड़ेगी .ये Capacitor बैटरी की जगह इस्तेमाल होंगे और आपको फास्ट चार्जिंग का नया फीचर मिलेगा .

6. Flexible Electronic

जब इलेक्ट्रॉनिक Components में Graphene का इस्तेमाल होगा तो उनका साइज़ भी कम हो जायेगा और जो हीटिंग की दिक्कत होती है बहुत ही कम हो जाएगी , और जो हमारे कंप्यूटर मोबाइल की स्पीड है वो भी बहुत ज्यादा हो जाएगी .

ये बहुत थोड़ी सी एप्लीकेशन है जंहा पर ग्राफेन का इस्तेमाल किया जायेगा ऐसी ही बहुत सारी एप्लीकेशन है जंहा पर इसका इस्तेमाल किया जायेगा . Display , Camera ,बुलेट प्रूफ जैकेट्स और भी बहुत सारी एप्लीकेशन में इसका इस्तेमाल किया जायेगा.

अब आपको पता लग गया होगा की Graphene क्या है

निर्माण[संपादित करें]

गीम और नोवोसेलोव ने ग्राफीन को ग्रेफाइट के एक टुकड़े से निष्कर्षित किया है। ग्रेफाइट सामान्य पेंसिल में इस्तेमाल किया जाता है। ग्रेफाइट एक भङुर पदार्थ है। जिसे तोडने पर वह काच कि तरह टुट जाता है। और बिखर जाता है।

विशेषताएँ[संपादित करें]

यह सबसे पतला पदार्थ है किंतु यह अब तक के पदार्थों में सबसे मजबूत भी है। बिजली का संवाहक होने के साथ साथ इसमें तांबे के भी गुण हैं। उष्मा का संवाहक होने के अलावा यह इस गुण में अन्य पदार्थों में सबसे आगे हैं। यह लगभग पारदर्शी है, इसके बावजूद यह इतना घना है कि सबसे छोटा गैस का अणु हीलियम भी इससे होकर गुजर नहीं सकता।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]