कूहिस्तोनी-बदख़्शान स्वशासित प्रान्त

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
मध्य एशिया के ऐतिहासिक क्षेत्र के लिए बदख़्शान देखें और अफ़ग़ानिस्तान के इस से मिलते-जुलते नाम वाले प्रान्त के लिए बदख़्शान प्रान्त देखें
कूहिस्तोनी-बदख़्शान स्वशासित प्रान्त
کوهستان بدخشان
मानचित्र जिसमें कूहिस्तोनी-बदख़्शान स्वशासित प्रान्त کوهستان بدخشان‎ हाइलाइटेड है
सूचना
राजधानी : ख़ोरूग़​
क्षेत्रफल : ६४,२०० किमी²
जनसंख्या(२००८):
 • घनत्व :
२,१८,०००
 ३.४/किमी²
उपविभागों के नाम: ज़िले
उपविभागों की संख्या:
मुख्य भाषा(एँ): पामीरी, ताजिक, किर्गिज़, रूसी


Gorno badakhshan map.png
कूहिस्तोनी-बदख़्शान की राजधानी ख़ोरूग़ से एक नज़ारा

कूहिस्तोनी-बदख़्शान स्वशासित प्रान्त (ताजिकी: Кӯҳистони Бадахшон, کوهستان بدخشان) या विलोयत-इ मुख़्तोर-इ कूहिस्तोनी-बदख़्शान ताजिकिस्तान की एक स्वशासित (ऑटोनोमस) विलायत (प्रान्त) है। यह प्रान्त ताजिकिस्तान के दक्षिण-पूर्व में स्थित है। इसका कुल क्षेत्रफल ६४,२०० वर्ग किमी है और सन् २००८ में इसकी आबादी २.१८ लाख अनुमानित कि गई थी। कूहिस्तोनी-बदख़्शान की राजधानी ख़ोरूग़ शहर है। इस प्रान्त का पुराना नाम गोर्नो-बदख़्शान हुआ करता था।[1]

नाम और उच्चारण[संपादित करें]

'बदख़्शान' में 'ख़' अक्षर के उच्चारण पर ध्यान दें क्योंकि यह बिना बिन्दु वाले 'ख' से ज़रा भिन्न है। इसका उच्चारण 'ख़याल' और 'ख़रीद' शब्दों के 'ख़' से मिलता है। हिन्दी-उर्दू और फ़ारसी में 'कोह' का अर्थ 'पर्वत' होता है, जैसे 'कोह-इ-नूर' (कोहिनूर हीरा) का अर्थ है 'नूर' (प्रकाश या चमक) का 'कोह' (पर्वत)। 'कूहिस्तोनी' ताजिकी भाषा में 'कोहिस्तानी' (यानि 'पर्वतीय क्षेत्र') कहने का लहजा है। इस प्रान्त के पुराने नाम 'गोर्नो-बदख़्शान' का 'गोर्नो' शब्द रूसी भाषा के 'गोर्नीय' (Горный) शब्द का रूप है जिसका मतलब भी 'पर्वतीय' होता है। इस तरह 'कूहिस्तोनी-बदख़्शान' और 'गोर्नो-बदख़्शान' दोनों का अर्थ 'पर्वतीय बदख़्शान' है।[2] ध्यान दीजिये कि पड़ोसी देश अफ़्ग़ानिस्तान में भी एक बदख़्शान प्रान्त है, जिसकी सीमाएँ कूहिस्तोनी-बदख़्शान से लगती हैं।

विवरण[संपादित करें]

पामीर पर्वतमाला में स्थित कूहिस्तोनी-बदख़्शान राज्य का बड़ा भाग एक दुर्गम पहाड़ी इलाक़ा है, जिस वजह से यहाँ आबादी भी कम है। यह प्रान्त पूरे ताजिकिस्तान के क्षेत्रफल का ४५% है लेकिन यहाँ उस देश के केवल ३% लोग रहते हैं। यहाँ बसने वाले अधिकाँश लोग ताजिकी नहीं बल्कि पामीरी समुदाय के हैं। उनके अलावा यहाँ किरगिज़ लोग और अन्य समुदाय भी बसते हैं। यहाँ कि राजधानी ख़ोरूग़ इस प्रान्त का सबसे बड़ा शहर भी है और इसमें २००८ में केवल २९,००० लोगों की आबादी थी। यहाँ पामीरी भाषा-परिवार की बहुत सी बोलियाँ बोली जाती हैं। इस प्रान्त को बाहार की दुनिया से केवल दो अच्छी सड़कें जोड़तीं हैं और दोनों ही पामीर राजमार्ग का हिस्सा हैं। एक ख़ोरूग़ से ओश शहर और दूसरी ख़ोरूग़ से दुशान्बे (ताजिकिस्तान की राजधानी) जाती है। एक तीसरी सड़क पूर्व की ओर चीन के शिनजियांग प्रान्त के ताश्कुरग़न नगर भी जाती है लेकिन वह बहुत ही ऊबड़-खाबड़ है। नक़्शे में देखने से कूहिस्तोनी-बदख़्शान का दक्षिणी छोर पाकिस्तान के बहुत ही पास है लेकिन उनके बीच से अफ़्ग़ानिस्तान का वाख़ान गलियारा निकलता है, जो कुछ भागों में केवल १६ किलोमीटर चौड़ा है लेकिन जिसे भयंकर पर्वतों की वजह से पार करना लगभग नामुमकिन है।[3]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Central Asia, Bradley Mayhew, Greg Bloom, Paul Clammer, Lonely Planet, 2010, ISBN 978-1-74179-148-8
  2. The handbook of Central Asia: a comprehensive survey of the new republics, Giampaolo R. Capisani, I.B. Tauris, 2000, ... The easternmost of these, Viloyati Mukhtori Kuhistoni Badakhshoni, is autonomous, unlike the others (kuhi in Tajik, or gorno in Russian, means mountain). The region is not easily accessible, as the road there is often unusable ...
  3. Afghanistan: a country without a state?, Christine Noelle-Karimi, Conrad J. Schetter, Reinhard Schlagintweit, Institut für Informations und Kommunikationsökologie, IKO, 2002, ISBN 978-3-88939-628-0, ... While eastern Badakhshan fringes Pakistan, at its easternmost point, through a short stretch along the Wakhan Corridor, the province is also connected with China ...