कार्तिक शुक्ल चतुर्दशी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

यह हिंदू पंचांग के आठवें महीने के दूसरे पक्ष का चौदहवाँ दिन है।

घटनाएँ[संपादित करें]

  • महाभारत काल में हुए 18 दिनों के विनाशकारी युद्ध के उपरांत अपने चित्त की अशांति दूर करने तथा मृतआत्माओं की शांति के लिए गढ़ खादर के विशाल रेतीले मैदान में आकर भगवान कृष्ण के साथ पांडवों द्वारा किए गए यज्ञ की पूर्णाहूती हुई। यह यज्ञ चार दिन पूर्व कार्तिक शुक्ल अष्टमी को शुरु किया गया था।

सन्दर्भ[संपादित करें]