कान्ह सिंह नाभा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

भाई कान्ह सिंह नाभा (पंजाबी: ਭਾਈ ਕਾਨ੍ਹ ਸਿੰਘ ਨਾਭਾ, जन्म: 1861 - मौत: 1938) उन्नीसवीं सदी के एक सिख विद्वान, कोशकार और लेखक थे जो अपने रचे विश्वज्ञानकोशीय ग्रंथ, 'महान कोश' के लिये जाने जाते हैं। उनके लिखे ग्रंथ महान कोश (गुरशब्द रत्नाकर महान कोश) को सिखमत, पंजाबी ज़बान और विरासत का विश्वज्ञानकोश का दर्जा हासिल है। उन्होंने सिंह सभा लहर में भी महत्त्वपूर्ण योगदान दिये।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]