एयर फ्रायर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

एयर फ्रायर एक रसोई उपकरण है जो संवहन तंत्र  (कन्वेक्शन मैकेनिज्म) का उपयोग करके भोजन के चारों ओर गर्म हवा को प्रसारित (सर्कुलेट) करके खाना बनाता है। यह संवहन ओवन (कन्वेक्शन ओवन) का एक छोटा संस्करण है। एक यांत्रिक पंखा उच्च गति पर भोजन के चारों ओर गर्म हवा प्रसारित (सर्कुलेट) करता है और भोजन को कुछ ही समय में सुपर क्रिस्पी बना देता है। एयर फ्रायर आमतौर पर बहुत जल्दी गर्म होते हैं और वे भोजन को जल्दी और समान रूप से पकाते हैं।

एयर फ्रायर कैसे काम करता है?

एक एयर फ्रायर का आंतरिक

रैपिड एयर टेक्नोलॉजी के रूप में जानी जाने वाली पेटेंट तकनीक एयर फ्रायर्स के काम का आधार बनाती है। गर्म हवा (2000C तक) उपकरण के अंदर घूमती है और यह गर्म हवा है जो एक ही समय में विभिन्न कोणों से उसके अंदर भोजन को गर्म करती है।

गर्म हवा के कारण एक रासायनिक प्रतिक्रिया उत्पन होती है जिसे माइलार्ड प्रभाव के रूप में जाना जाता है, जो भोजन के बाहरी परत को  कुरकुरा बना देती है और अंदरूनी परत को नरम और रसदार बनाये रखती है। इस कारण हमें एक स्वास्थ्यवर्धक और स्वादिष्ट भोजन प्राप्त होता है। यह वास्तव में सुविधाजनक है क्योंकि यह तेज और आसान है और सबसे अच्छी बात यह है कि यह बहुत स्वस्थ है।

एयर फ्रायर सुरक्षित और उपयोग करने के लिए सुविधाजनक हैं। वे खाना पकाने के पारंपरिक तरीके की तुलना में बहुत जल्दी व्यंजन बनाते हैं। फ्रेंच फ्राइज़, फ्राइड चिकन विंग्स या फ्राइड फिश व अन्य पदार्थ समान स्वादिष्ट परिणाम के साथ 15-20 मिनट के औसत समय में तैयार किया जा सकता है। एयर फ्रायर से तैयार भोजन और पारंपरिक तरीके से तैयार भोजन की गुणवत्ता में कोई अंतर नहीं होता है।