उल्लू

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
उल्लू

यह एक ऐसा विचित्र पक्षी है, जिसे दिन कि अपेक्षा रात में अधिक स्पष्ट दिखाई देता है। उसे दिखाई तो दिन में भी देता है, लेकिन उतना स्पष्ट नहीं देता जितना कि रात में l इसके कान बेहद संवेदनशील होते हैं और रात में जब इसका कोई शिकार (जानवार) थोड़ी सी भी हरकत करता है, तो इसे पता चल जाता है और यह उसे दबोच लेता है l इसके पैरों में टेढ़े नाखूनों-वाले चार पंजे हैं, जिससें इसे शिकार को दबोचने में विशेष सुविधा मिलती है l चूहे इसका विशेष भोजन हैं l उल्लू लगभग संसार के सभी भागों में पाया जाता है l

जिन पक्षियों को रात में अधिक दिखाई देता है, उन्हें रात का पक्षी (Nocturnal Birds) कहते हैं। बड़ी आंखें बुद्धिमान व्यक्ति की निशानी होती है और इसलिए उल्लू को बुद्धिमान माना जाता है। हालांकि ऐसा जरूरी नहीं है पर ऐसा विश्वास है।

यह विश्वास इस कारण है, क्योंकि कुछ देशों में प्रचलित पौराणिक कहानियों में उल्लू को बुद्धिमान माना गया है।

प्रचीन यूनानियों में बुद्धि की देवी, एथेन के बारे में कहा जाता है कि वह उल्लू का रूप धारकर पृथ्वी पर आई हैं। भारतीय पौराणिक कहानियों में भी यह उल्लेख मिलता है कि उल्लू धन की देवी लक्ष्मी का वाहन है और इसलिए वह मूर्ख नहीं हो सकता है। हिन्दू संस्कृति में माना जाता है कि उल्लू समृद्धि और धन लाता है। डरावने दिखने के कारण कुछ लोग उल्लू से डरते भी हैं।