उत्तानशीर्षासन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

उत्तानशीर्षासन (कटी उत्तानासन) - विधि[संपादित करें]

शवासन मे लेटकर दोनों पैरो को मोड़कर रखें। दोनों हाथ दोनों ओर पार्श्र्व में फैलाकर रखें। श्वास अन्दर भरते हुए पीठ को ऊपर की ओर खीचें। नितम्ब तथा कंधे भूमि पर टिके हुए होम। फिर श्वास छोड़ते हुए पीठ को नीचे भूमि पर दबाकर पूरा सीधा कर दें। इस प्रकार यह अभ्यास 8-10 बार तक करें।


उत्तानशीर्षासन (कटी उत्तानासन)- लाभ[संपादित करें]

स्लिप डिस्क, सियाटिका एवं कमर दर्द में विशेष उपयोगी है।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]