उत्तरोत्तर आसन्नीकरण एडीसी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

वे एडीसी, उत्तरोत्तर आसन्नीकरण एडीसी (successive approximation ADC) कहलाते हैं जो एनॉलॉग संकेतों को आंकिक संकेतों में परिवर्तन करने के लिये भिन्न-भिन्न आंकिक मानों से क्रमशः गुजरते हुए अन्ततः अन्तिम मान पर आ पहुँचते (कन्वर्ज होते) हैं। इस प्रकार के एक परिपथ का ब्लॉक-आरेख नीचे दिया गया है-

उत्तरोत्तर आसन्नीकरण एडीसी का ब्लॉक-आरेख
संकेत
  • DAC = digital-to-analog converter
  • EOC = end of conversion
  • SAR = successive approximation register
  • S/H = sample and hold circuit
  • Vin = input voltage
  • Vref = reference voltage

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]