ईंधन सेल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
मिथेनॉल से सीधे विद्युत उत्पादन करने वाले ईंधन से का मॉडल

ईंधन सेल (fuel cell) एक विद्युतरासायनिक युक्ति है जो ईंधन से प्राप्त रासायनिक ऊर्जा को सीधे विद्युत में परिवर्तित करती है। यह परिवर्तन एक रासायनिक अभिक्रिया के द्वारा होता है जिसमें धनावेशित हाइड्रोजन ऑयन, आक्सीजन या किसी अन्य आक्सीकारक से क्रिया करते हैं। ईंधन सेल, परम्परागत बैटरियों से इस दृष्टि से भिन्न हैं कि इनकी रासायनिक अभिक्रिया को चलते हुए बनाये रखने के लिये ईंधन और आक्सीजन के अविराम स्रोत आवश्यक होता है। ईंधन सेल तब तक ही विद्युत उत्पादन कर सकते हैं जब तक ईंधन और आक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित बनी रहे।

यदि शुद हाइड्रोजन का उपयोग ईंधन के रूप में होता है तो फ्यूल सेल उप उत्पाद के रूप में ऊष्मा एवं जल का उत्सर्जन करता है। फ्यूल सेल दिष्ट धारा के रूप मे विहात उत्पादन करते है।