इलेक्ट्रोमैग्नेटिक पल्स

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
यूएसए के ऊपर ४०० किमी ऊँचाई पर किसी ईएमपी की तीव्रता

एक इलेक्ट्रोमैग्नेटिक पल्स (अंग्रेज़ी: Electromagnetic pulse), जिसे आम तौर पर इएमपी कहा जाता है, इलेक्ट्रोमैग्नेटिक रेडिएशन की फुहार होती है। यह परमाणु विस्फ़ोट या चुम्बकीय क्षेत्र में आए अचानक बदलाव के कारण उत्पन्न होती है।[1] इसके परिणामस्वरूप उत्पन्न हुई तरंगों के रस्ते में आने वाली हर इलेक्ट्रोनिक वस्तु नष्ट हो जाती है।[2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Defense, United States. Dept. of; Glasstone, S.; Commission, U.S. Atomic Energy (१९६२). The Effects of Nuclear Weapons. The Effects of Nuclear Weapons (अंग्रेजी भाषा में). U.S. Atomic Energy Commission. अभिगमन तिथि २७ अप्रैल २०२०.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)
  2. Defense, D.; Congress, U.S.; Commission, F.E.R.; Administration, N.A.S.; Attack, C.A.T.U.S.E.P.; Government, U.S. (२०१७). 21st Century Complete Guide to Electromagnetic Pulse (EMP): Nuclear Weapon Effects (NWE) and the Threat to the Electric Grid and Critical Infrastructure, HEMP, EMI, Microwave Devices (अंग्रेजी भाषा में). Independently Published. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-1-5212-6098-2. अभिगमन तिथि २७ अप्रैल २०२०.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]