आयतचित्र

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
आयतचित्र
Histogram of arrivals per minute.svg
प्रथम प्रस्तावक कार्ल पियर्सन
उद्देश्य किसी दिये गये चर का किसी निश्चित सीमा में मान की आवृति को प्रायिकता वितरण को आकलित करने के लिए।

सांख्यिकी में आयतचित्र (Histogram) आँकड़े वितरण का ग्राफीय निरुपण है। यह सतत चर का प्रायिकता वितरण है जिसको सर्वप्रथम कार्ल पियर्सन ने प्रस्तावित किया था।[1] आयतचित्र सारणीबद्ध आवृत्तियों का निरूपण है जिसे असतत अंतराल पर खड़े आयत द्वारा निरुपित किया जाता है। इसमें सम्बंधित अन्तराल का क्षेत्रफल प्रेक्षण की आवृत्ति के अनुक्रमानुपाति होता है। आयत की ऊँचाई भी सम्बंधित अन्तराल के आवृत्ति घनत्व अर्थात आवृत्ति और अन्तराल चौड़ाई के अनुपात के समान होती है। आयतचित्र का कुल क्षेत्रफल आँकड़ों की कुल संख्या के समान होता है। एक आयतचित्र को सम्बंधित आवृत्ति के साथ प्रसामान्यकृत करके भी प्रदर्शित किया जा सकता है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. doi:10.1098/rsta.1895.0010
    This citation will be automatically completed in the next few minutes. You can jump the queue or expand by hand