आनंद समाराकून

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
आनंद समाराकून
जन्मनाम एगोदाहागे जॉर्ज विल्फ्रेड एल्विस समाराकून
अन्य नाम आनंद समाराकून
जन्म 13 जनवरी, 1911
निवास श्रीलंका
मृत्यु 5 अप्रैल, 1962
शैली श्रीलंकाई संगीत
व्यवसाय गायक-गीतलेखक
शिक्षक
सक्रिय वर्ष 1938–1962

आनंद समाराकून, (1911-1962), श्रीलंका के एक संगीतकार, कवि और शिक्षक थे। समाराकून ने श्रीलंका के राष्ट्रगान श्रीलंका माता की रचना की थी और उन्हें कलात्मक श्रीलंकाई संगीत का पिता माना जाता है। समाराकून श्रीलंका के आधुनिक “गीत साहित्य” के संस्थापक भी हैं।

5 अप्रैल 1962 को समाराकून ने नींद की अधिक गोलियां खाकर आत्महत्या कर ली, कहा जाता है वो उनके द्वारा रचित श्रीलंका के राष्ट्रगान के कुछ शब्दों को उनकी अनुमति के बिना बदले जाने से आहत थे और इसी कारण उन्होनें आत्महत्या जैसा कदम उठाया। आज भी समाराकून द्वारा रचित संगीत श्रीलंका में लोकप्रिय है।

संदर्भ[संपादित करें]