आत्मक्षति

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

जानबूझकर, किन्तु आत्महत्या के इच्छा से नहीं, अपने शरीर को क्षति पहुँचाना आत्मक्षति (Self-harm (SH) या deliberate self-harm (DSH)) कहलाता है। इसके अन्तर्गत अपने-आप को चोट पहुंचाना, स्वयं को विष देना भी सम्मिलित हैं। 'त्वचा को काटना' इसका सबसे सामान्य रूप है। इसके अलावा जलना, खरोंचना, शरीर के अंगों पर प्रहार करना, बाल-खींचना, तथा विषैले पदार्थ निगलना आदि भी आत्मक्षति के अन्तर्गत आते हैं।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]