अहमद यख़्ता माद्रन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
अहमद यख़्ता माद्रन
जन्म1885
तुर्की
निधन1950
विधायेंउस्मान शास्त्रीय संगीत तुर्की मक़ाम संगीत
पेशासंगीतकार

अहमद यख़्ता माद्रन तुर्की के संगीतकार, स्कूली गीतों को लिखने वाले और क्रान्तिकारी स्ंगीत से जुड़े थे।

जीवन[संपादित करें]

मद्रान को इज़मीर में एक सामूहिक संगीतज्ञ के रूप में इज़मीर के कला विद्यालय में प्रशिक्षण दिया गया था। उसने क्लारिनेट को चलाना सीखा। स्कूल के पश्चात वे एदिर्ने में एक सैनिक समूह के प्रशिक्षक बने, जहाँ उनकी एक आँख पर गहरी चोट लगी। 1908 में माद्रन मिज़िका-ए-हुमायूँ में वे शामिल हुए। बाद में उन्हें मिस्र में सेवा के लिए भेजा गया वे एक जर्मन समूह का हिस्सा बने। मद्रान इस समूह के एकमात्र वादक के रूप में कई दौरे किए। गणराज्य बनने के बाद वे राष्ट्रपति स्वर समता वादक समूह के रचनाकार बने।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]