अश्वमीन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

अश्वमीन,समुद्री घोडा (Seahorses)
सामयिक शृंखला: Lower Miocene to present – 23–0 मिलियन वर्ष
Hippocampus.jpg
Hippocampus sp.
वैज्ञानिक वर्गीकरण
जगत: Animalia
संघ: Chordata
वर्ग: Actinopterygii
गण: Syngnathiformes
कुल: Syngnathidae
उपकुल: Hippocampinae
वंश: Hippocampus
Rafinesque, 1810[1][2]
Species

see Species.

अश्वमीन या समुद्री घोड़ा (Seahorse) समुद्र में पायी जाने वाली छोटी मछलियों की ५४ प्रजातियों का नाम है जो हिप्पोकैम्पस जीनस में आतीं हैं। समुद्री घोड़ा एक विचित्र प्रकार की मछली है। इसका सिर घो़ड़े के सिर से मिलता-जुलता है, इसलिए इसका नाम समुद्री घोड़ा पड़ गया। इसका शरीर कड़ा और चिकना होता है तथा पूँछ साँप जैसी होती है। यह अक्सर गर्म समुद्रों के पास समुद्री घास और छोटे-छोटे पौधों के साथ पूँछ की कुंडली बनाकर चिपका रहता है। इसकी अधिकतर आदतें मछलियों से अलग होती हैं।

समुद्र के पानी में बहती हुई किसी चीज को खाते समय भी ये अपनी पूँछ समुद्री घास से चिपकाए रहते हैं। ये सफेद पीले और लाल रंग के होते हैं। इनकी सौ से अधिक प्रजातियाँ पाई जाती हैं। इनकी लंबाई २.५ सेमी से ३०.५ सेमी तक होती है। ये फिन का इस्तेमाल करते हुए सीधी स्थिति में तैरते हैं।
इसकी दोनों आँखें एक-दूसरे से स्वतंत्र काम करती हैं, नर समुद्री घोड़े के पेट पर कंगारू की तरह थैली होती है। मादा इसी थैली में अंडे देती है। इस थैली में ही अंडों से बच्चे बनते। अंडों से बच्चे बनने में ४५ दिन का समय लगता है। इसके बाद नर थैली खोलकर बच्चों को समुद्र में छोड़ देता है। नर समुद्री घोड़ा एक वर्ष में अंडों को तीन बार अपनी थैली में "से" सकता है। एक बार में वह इसमें पचास अंडों को रख सकता है। मादा से मिलने के बाद ५ सप्ताह में इसके पेट की थैली में अंडे तैयार हो जाते हैं। समुद्री घोड़ा केवल गर्मियों में ही दिखाई देता है। यह किसी को पता नहीं कि सर्दियों में यह कहाँ चला जाता है। अंगूठाकार|समुद्री घोड़े का जीवन चक्र |पाठ=|बाएँयह मछली खाने के काम नहीं आती। समुद्री घोड़े को दूसरी मछलियाँ भी खाना पसंद नहीं करतीं। इसलिए इसे शत्रुओं का खतरा कम हो जाता है। अश्व्मीन का आकार 1.५ से 35.५ सेंटीमीटर तक होता है सामान्य रूप से मछलियों में से अश्वामिन के पास एक अच्छी लचीली गर्दन होती है. ये छोटे जिव तैरने में काफी कमजोर होते है इनकी पूंछ के ऊपरी हिस्से पर मोरपंख जैसे बेहद छोटे से पंख होते है लेकिन ये तेजीसे तैरने लायक मदद नहीं करते.

[3]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Rafinesque Schmaltz, C. S. (1810). "G. Hippocampus". Caratteri di alcuni nuovi generi e nuove specie di animali e piante della Sicilia: con varie osservazioni sopra i medesimi. Palermo: Sanfilippo. पृ॰ 18.
  2. Hippocampus Rafinesque, 1810 Archived 14 जुलाई 2011 at the वेबैक मशीन., WoRMS
  3. Duvernoy, HM (2005). "Introduction". The Human Hippocampus (3rd संस्करण). Berlin: Springer-Verlag. पृ॰ 1. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 3-540-23191-9.