अव्यक्त छाप

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

'अव्यक्त' (latent) का मतलब है छिपा या अदृश्य। न्यायालयिक विज्ञान में अव्यक्त छाप ( latent fingerprints) का मतलब है कोई मौका या आकस्मिक छाप एक सतह पर घर्षण रिज त्वचा द्वारा छोड़ा गया हो।

किसी भी अपराधिक स्थान पर बहुत सरे अव्यक्त छाप मिलने की संभावना हो सकती है। त्वचा द्वारा हुए स्राव के करण ही यह प्रिंट्स किसी भी वस्तु पर आ जाते हैं। अव्यक्त छाप हाथ की उंगलियों के या हाथ की हथेली के या पैर की उंगलियों के भी हो सकते हैं।[1] अव्यक्त छाप किसी भी रूप मी पाए जा सकते हैं। जरुरी नहीं की वह साफ हो और पूरे छाप हो वह आधे भी हो सकते हैं, विकृत या २ छाप एक दुसरे के ऊपर हो। इसी करण अव्यक्त छाप की तुलना करना और मिलना मुश्किल हो जाता है।[2]

अव्यक्त छाप को विकसित करना[संपादित करें]

अव्यक्त छाप किसी भी रूप मी पाए जा सकते हैं। जरुरी नहीं की वह साफ हो और पूरे छाप हो वह आधे भी हो सकते हैं, विकृत या २ छाप एक दुसरे के ऊपर हो। इसलिए अपराधिक स्थान पर किसी भी वस्तु को हाथ लगाने से पहले दस्ताने पेहने जरुरी होते हैं। अव्यक्त छाप वस्तु को देख कर विकसित किये जाते हैं। कोई भी एस्सा काम नहीं किया जाता जिस से सबूत खराब हो। तरीके जो इस्तेमाल किये जाते हैं;

  • भौतिक विधि
पाउडर से विकसित करते प्रिंट्स
  1. पाउडरसे
  • रासायनिक विधि
  1. निन-ह्य्द्रिन से
  2. आयोडीन फुमिंग से
  3. सिल्वर नाइट्रेट से

अव्यक्त छाप को उठाना[संपादित करें]

अव्यक्त छाप को विकसित करने के बाद उसकी रिकॉर्डिंग करनी होती है। उसके लिए सहते से छाप उठाए जाते हैं ताकी उन्हें कोई खराब न कर दे। उसके लिए २ तरके अपनाये जाते हैं;

  • टेप से उठाना
  • फोटो लेना

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Johnson, P. Lee (1973). "Life of Latents". Identification News. 23 (1)
  2. Zabell, Sandy. "Fingerprint Evidence" (PDF). Journal of Law and Policy.