सामग्री पर जाएँ

अवस्कर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
लाल पुच्छ वाले बाज़ का अवस्कर

प्राणी विज्ञान में, एक अवस्कर, पिछला छिद्र है जो कई कशेरुकी प्राणियों के आहार नाल, मूत्राशय तथा जनन पथ (यदि उपस्थित है) हेतु एकमात्र प्रकोष्ठ के रूप में कार्य करता है। सभी उभयचरों, सरीसृपों और पक्षियों, और कुछ स्तनधारियों (अण्डजस्तनी) में यह छिद्र होता है, जिससे वे मूत्र और मल दोनों का उत्सर्जित करते हैं; यह अधिकांश अपरा स्तनधारियों के विपरीत है, जिनमें निकासी हेतु दो या तीन भिन्न छिद्र होते हैं। कुछ अकशेरुकीय में समान उद्देश्य के साथ उत्सर्जन के द्वार को कभी-कभी अवस्कर के रूप में भी जाना जाता है।

सन्दर्भ[संपादित करें]