अल्फागो

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

अल्फागो (अंग्रेज़ी: AlphaGo) एक कम्प्यूटर प्रोग्राम है। इसका निर्माण अमेरिकी कंपनी गूगल डीपमाइंड ने किया है। जो एक गो नामक खेल को खेलता है। अक्टूबर 2015 में यह पहला प्रोग्राम बना जो किसी व्यावसायिक व्यक्ति जो उस खेल में बहुत अच्छा है, उसे हरा दिया। इसमें इसका आकार 19x19 आकार का था। इसका निर्माण मनुष्य की बुद्धि के जैसे ही मशीन में भी कृत्रिम बुद्धि के निर्माण करने हेतु किया गया है।[1]

मार्च 2016 में इसने गो में दूसरे सबसे ज्यादा ख़िताब जीतने वाले खिलाड़ी ली सीडोल को हराया, जिससे ये किसी पेशेवर गो खिलाडी को हराने वाला पहला कम्प्यूटर प्रोग्राम बना।[2][3]

इतिहास[संपादित करें]

गो कम्प्यूटर के लिए अन्य खेलों के मुक़ाबले बहुत कठिन माना जाता है। क्योंकि इसमें बहुत बड़ी संख्या में कुछ भी होने की संभावना अधिक रहती है। 1997 में जब आईबीएम के कम्प्यूटर डीप ब्लू ने चेस के महारत गैरी कास्पारोव को हरा दिया उसके 20 वर्षों के बाद ऐसी तकनीक बनाई जा सकी जिससे किसी गो खिलाड़ी को हराया जा सके।

प्रतिक्रिया[संपादित करें]

टोबी मैनिंग ने अल्फागो के द्वारा फन हुई और हाइजीन ली के हार के बाद कहा इसके द्वारा गो खिलाड़ी कम्प्यूटर से अपने खेल में सुधार ला सकते हैं और उन्हें पता चल सकता है कि वे कहाँ पर गलती कर रहे हैं।[4]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Research Blog: AlphaGo: Mastering the ancient game of Go with Machine Learning". Google Research Blog. 27 January 2016.
  2. "Google's AI wins final Go challenge". बीबीसी (अंग्रेज़ी में). 15 मार्च 2016. अभिगमन तिथि 13 मई 2016.
  3. Choe Sang-Hun (15 मार्च 2016). "Google's Computer Program Beats Lee Se-dol in Go Tournament". द न्यू यॉर्क टाइम्स (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 13 मई 2016.
  4. Gibney, Elizabeth (2016). "Go players react to computer defeat". Nature. डीओआइ:10.1038/nature.2016.19255.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]