अर्शक

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

अर्शक पहला पार्थव राजा था। यूनानियों ने इसे 'आर्ससीज़' (Ἀρσάκης / Arsaces) लिखा है। २४८ ई.पू. के लगभग सीरियक साम्राज्य के जिन दो प्रांतों ने सफल विद्रोह का झंडा उठाया, उनमें से एक बाख्त्री का ग्रीक शासित प्रांत था, दूसरा ईरानियों का पार्थिया। पार्थिया का विद्रोह राष्ट्रीय था और जब पार्थव ग्रीक शासन का जुआ न ढो सके तो उसे उन्होंने उतार फेंका। उनके जनविद्रोह का नेता अर्शक साधारण कुल में जन्म था और उसके नेतृत्व में पार्थिया का प्रांत सेल्युकस के साम्राज्य से अलग हो गया।

सन्दर्भ[संपादित करें]