अपवाह वेग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

इलेक्ट्रॉन को प्राप्त हुआ है सूक्ष्म नियत वेग जो मुक्त इलेक्ट्रॉन को तार की लंबाई के अनुदिश उच्च विभव वाले सिरे की ओर गति के लिए प्रेरित करता है, अनुगमन वेग (ड्रिफ्ट वेलॉसिटी) कहलाता है।

विद्युत धारा का मान अपवाह वेग के समानुपाती होता है। प्रतिरोधी पदार्थों में अपवाह वेग, आरोपित वाह्य विद्युत क्षेत्र के समानुपाती होता है। अतः [[ओम का नियम|ओम के नियम को अपवाह वेग के रूप में भी अभिव्यक्त कर सकते हैं।

ओम के नियम का सबसे आधारभूत रूप यह है-

जहाँ u अपवाह वेग है, μ पदार्थ में इलेक्ट्रॉन की गतिशीलता (mobility) है (ईकाई m2/(V⋅s)) तथा E विद्युत क्षेत्र है(V/m में)।