अपवाद

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

अपवाद

अपवाद हिंदी भाषा का शब्द है जो अपनी श्रेणी की सभी सामान्य गतिविधियों को खंडन स्वयं करता है। अपवाद वह स्थिति है जहाँ सामान्य धारणा या आकलन के स्थान पर नया परिणाम मिलता है ऐसी स्थिति को अपवाद माना जाता है। अपवाद कोई नियम नही है बल्कि सामान्य नियमो का उलंघन करता है। 

उदाहरण 1- हिन्दू धर्म के लोग मंदिर जाते है तो यह सामान्य अवस्था है किंतु अन्य धर्म का व्यक्ति यदि मंदिर जाता है तो यह अपवाद होगा क्योंकि ये अपेक्षाओं से परे है।

उदाहरण 2 - किसी सुंदर महिला के द्वारा उकसाने पर भी यदि कोई पुरुष उसकी और आकर्षित नही होता तो वह पुरुष सभी पुरुषों में अपवाद होगा। 

 अतः अपवाद सामान्य अपेक्षाओं और स्वभावो का तोड़ने वाली स्थिति है। अपवाद होने का निर्धारण अलग अलग विषयो में अलग मानकों के आधार पर किया जाता है।


अन्य अर्थ[संपादित करें]

हात्ति, स्वामी, खसि, सम्धि, चाहिँ आदि।

संबंधित शब्द[संपादित करें]

हिंदी में[संपादित करें]

अन्य भारतीय भाषाओं में निकटतम शब्द[संपादित करें]