अनुप्रयुक्त भूगोल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

अनुप्रयुक्त भूगोल मानव भूगोल की एक प्रमुख अपेक्षाकृत सबसे नई शाखा हैं। इसके अन्तर्गत वर्तमान मानवीय समस्याओं जैसे - अल्प विकास, जन्संख्या का आधिक्य, नगरीय एवं भूमि-उपयोग, मानव-स्वास्थ्य से सम्बन्धित समस्याओं, नगर-नियोजन आदि का अध्ययन अधिकतम मानव कल्याण की नज़र से किया जाता हैं।