हर्मन स्टॉडिंगर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
हर्मन स्टॉडिंजर

जन्म 23 मार्च 1881
वॉर्म्स, जर्मनी
मृत्यू 8 सितम्बर 1965(1965-09-08) (उम्र 84)
फ़्रीबर्ग, जर्मनी
राष्ट्रीयता जर्मन
क्षेत्र रासायनिकी
संस्थाएँ स्ट्रैसबर्ग विश्वविद्यालय
कार्लश्रूह विश्वविद्यालय
ई.टी.एच, ज़्यूरिख
फ़्रीबर्ग विश्वविद्यालय
मातृसंस्था हैले विश्वविद्यालय
डॉक्टरेट सलाहकार डेनियल वोर्लैंडर
डॉक्टरेट छात्र लैवोस्लैव रुज़िका
प्रसिद्ध कार्य बहुलक रासायनिकी
पुरस्कार नोबेल पुरस्कार, रासायनिकी

हर्मन स्टौडिंजर (२३ मार्च १८८१– ८ सितंबर १९६५) एक जर्मन र्सायन शास्त्री थे। इन्होंने मैक्रो अणुओं को बहुलक की तरह दर्शाया। इस कार्य के लिए उन्हें १९५३ में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।