नोबेल पुरस्कार

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

नोबेल फाउंडेशन द्वारा स्वीडन के वैज्ञानिक अल्फ्रेड नोबेल की याद में वर्ष १९०१ मे शुरू किया गया यह शांति, साहित्य, भौतिकी, रसायन, चिकित्सा विज्ञान और अर्थशास्त्र के क्षेत्र में विश्व का सर्वोच्च पुरस्कार है। इस पुरस्कार के रूप में प्रशस्ति-पत्र के साथ 14 लाख डालर की राशि प्रदान की जाती है। अल्फ्रेड नोबेल ने कुल ३५५ आविष्कार किए जिनमें १८६७ में किया गया डायनामाइट का आविष्कार भी था। नोबेल को डायनामाइट तथा इस तरह के विज्ञान के अनेक आविष्कारों की विध्वंसक शक्ति की बखूबी समझ थी। साथ ही विकास के लिए निरंतर नए अनुसंधान की जरूरत का भी भरपूर अहसास था। दिसंबर १८९६ में मृत्यु के पूर्व अपनी विपुल संपत्ति का एक बड़ा हिस्सा उन्होंने एक ट्रस्ट के लिए सुरक्षित रख दिया। उनकी इच्छा थी कि इस पैसे के ब्याज से हर साल उन लोगों को सम्मानित किया जाए जिनका काम मानव जाति के लिए सबसे कल्याणकारी पाया जाए। स्वीडिश बैंक में जमा इसी राशि के ब्याज से नोबेल फाउँडेशन द्वारा हर वर्ष शांति, साहित्य, भौतिकी, रसायन, चिकित्सा विज्ञान और अर्थशास्त्र में सर्वोत्कृष्ट योगदान के लिए दिया जाता है। नोबेल फ़ाउंडेशन की स्थापना २९ जून १९०० को हुई तथा 1901 से नोबेल पुरस्कार दिया जाने लगा। अर्थशास्त्र के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार की शुरुआत 1968 से की गई। पहला नोबेल शांति पुरस्कार १९०१ में रेड क्रॉस के संस्थापक ज्यां हैरी दुनांत और फ़्रेंच पीस सोसाइटी के संस्थापक अध्यक्ष फ्रेडरिक पैसी को संयुक्त रूप से दिया गया।

अल्फ्रेड नोबेल

नोबेल फाउंडेशन[संपादित करें]

नोबेल फाउंडेशन का प्रारम्भ २९ जून १९९० में हुआ। इसका उद्देश्य नोबेल पुरस्कारों का आर्थिक रूप से संचालन करना है। नोबेल के वसीहतनामे के अनुसार उनकी ९४% से ज्यादा वसीहत के मलिक वो लोग है जिन्होने मानव जाति के लिए विभिन्न क्षेत्रों में उत्तम कार्य किया है। इसलिए प्रत्येक वर्ष उस वसीहत की ब्याज की राशि उन लोगो को ईनाम के रूप मे दी जाती है। नोबेल फाउंडेशन मे ५ लोगों की टीम है जिसका मुखिया स्वीडन की किंग ऑफ काउन्सिल द्वारा तय किया जाता है अन्य चार सदस्य पुरस्कार वितरक संस्थान के न्यासी (ट्रस्टियों) द्वारा तय किए जाते हैं। स्टॉकहोम में नोबेल पुरस्कार सम्मान समारोह का मुख्य आकर्षण यह होता है कि सम्मानप्राप्त व्यक्ति स्वीडन के राजा के हाथों पुरस्कार प्राप्त करते है.

२०१० में प्रदान किए गए नोबेल पुरस्कार[संपादित करें]

  • चिकित्सा- रॉबर्ट एडवर्ड(ब्रिटेन), को इन विट्रो फ़र्टिलाइज़ेशन (आईवीएफ़) तकनीक का विकास करने के लिये, जिससे टेस्ट ट्यूब बेबी संभव हुई
  • भौतिकी- आंद्रे गिएम और कॉंस्टेंटीन नोवोसेलॉफ़ (दोनों दोनों इंगलैंड के मैंचैस्टर विश्वविद्यालय के वैज्ञानिक) को ग्रेफ़ीन पर किए गए शोध के लिए
  • रसायन- रिच्हर्द फ हेक, इ-इच्हि नेगिशि,अकिर सुजुकि।
  • साहित्य- मारियो वर्गास लियोसा (पेरू के साहित्यकार) को
  • शांति- लू श्याबाओ (चीन के मानवाधिकार कार्यकर्ता)
  • अर्थशास्त्र- अमरीका के पीटर डायमंड और डेल मॉर्टेंसन के अलावा ब्रिटेन के क्रिस्टोफ़र पिसारिदेस को बेरोज़गारी, रोज़गार के अवसर और वेतन पर सरकारी नीतियों के प्रभाव का अध्ययन करने के लिए

साहित्य का नोबेल पाने वाले आज तक के सबसे कम उम्र के साहित्यिक रूडयार्ड किपलिंग रहे है. वर्ष 1907 में जब उन्हें ‘जंगल बुक’ के लिए नोबेल सम्मान मिला तब वह केवल 42 वर्ष के थे.

२००९ में प्रदान किए गए नोबेल पुरस्कार[संपादित करें]

-

बाहरी कडियाँ[संपादित करें]