सिडनी शेल्डन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
Sidney Sheldon
जन्म 11 फ़रवरी 1917
Chicago, Illinois, United States
मृत्यु जनवरी 30, 2007(2007-01-30) (उम्र 89)
Rancho Mirage, California, United States
व्यवसाय Novelist
राष्ट्रीयता American
लेखन काल 1969-2005
शैली Crime fiction,
Thriller
आधिकारिक जालस्थल

सिडनी शेल्डन (11 फरवरी,1917 - 30 जनवरी, 2007) एक अमेरिकी लेखक थे. 20 सालों की अवधि में टीवी के लिए काम करने के दौरान उन्होंने द पैटी ड्‍यूक शो (1963-66), आई ड्रीम ऑफ जैनी (1965-70) और हार्ट टू हार्ट की (1979-84) रचना की, लेकिन 50 साल की उम्र के होने के बाद ही उन्होंने मास्टर ऑफ द गेम (1982), द अदर साइड ऑफ मिडनाइट (1973) और रेज ऑफ एंजेल्स (1980) जैसे सर्वाधिक लोकप्रिय उपन्यास लिखना ‍शुरू‍ किया, जिससे उन्हें बहुत अधिक ख्याति मिली.

जीवन और कॅरियर[संपादित करें]

शेल्डन शिकागो के इलिनॉयस के सिडनी शेचेटल में ज्वेलरी स्टोर में मैनेजर रूसी यहूदी वंशज माता-पिता एस्चेर "ऑटो" शेचटल (1894-1967) और नैटेली मारकस की संतान थे. 10 साल की उम्र में 5 डॉलर में उनकी पहली कविता बिकी.[1] मंदी के दौरान उन्होंने कई तरह की नौकरियां की, नॉर्थवेस्टर्न विश्वविद्यालय से जुड़े और नाट्‍य दलों के साथ लघु नाटक लिखे.[1]

1937 में वे हॉलीवुड, कैलिफोर्निया चले गए, जहां उन्होंने पटकथाओं की समीक्षा की और बहुत सारी बी फिल्मों के लिए सहयोग दिया.[2] शेल्डन द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान आर्मी एअर कॉर्प्स की शाखा, युद्ध प्रशिक्षण सेवा में एक पायलट की हैसियत से सेना में भी भर्ती हुए, हालांकि, शेल्डन किसी कार्रवाई में हिस्सा लेते, इससे पहले ही उनकी इकाई भंग कर दी गयी.[2] इसके बाद वे नागरिक जीवन में लौट आए और न्यूयॉर्क के लिए रवाना हुए, जहां MGM स्टूडियोज और पैरामाउंट पिक्चर्स के लिए पटकथा लिखते हुए ब्रॉडवे मंच के लिए गीत भी लिखने लगे. एक ही समय में ब्रॉडवे के लिए तीन गीत, द मैरी विडो , जैकपॉट और ड्रीम विद म्युजिक को फिर से लिखने का काम करके उन्होंने प्रतिभाशाली लेखक की ख्याति अर्जित की.[1] ब्रॉडवे की सफलता हॉलीवुड में उन्हें वापस ले आयी, जहां उन्होंने पहला जो काम किया वह द बैचलर और बॉबी सॉक्सर थी, जिसने उन्होंने 1947 का सर्वश्रेष्ठ मूल पटकथा का एकाडमी अवार्ड दिलाया.

जब टेलीविजन नया गर्मागर्म माध्यम बना तो उन्होंने इसमें अपना हाथ आजमाने का निर्णय लिया. "मुझे लगता है मुझे पैसे की सख्त जरूरत थी," याद करते हुए उन्होंने कहा. "एक दिन दोपहर के खाने में मुझे पैटी ड्‍यूक मिला. इसलिए मैंने द पैटी ड्यूक शो का निर्माण किया, और मैंने वह किया ‍जो अब तक किसी ने टीवी के लिए नहीं किया था. सात सालों तक मैंने धारावाहिक के लगभग हरेक एपिसोड के लिए लिखा."[1] उन्होंने हार्ट टू हार्ट और नैंसी की श्रृंखला के लिए भी लिखा. सर्वाधिक मशहूर श्रृंखला आई ड्रीम ऑफ जैनी उन्होंने लिखा, जिसकी रचना और निर्माण का काम भी उन्होंने किया, जो 1965-1970 तक पांच सीजन के लिए चली. 1982 में उन्होंने कहा, "आई ड्रीम ऑफ जैनी के आखिरी साल के दौरान मैंने उपन्यास भी लिखने की कोशिश करने का निर्णय लिया." "हर सुबह 9 बजे से दोपहर तक स्टुडियो में मेरे सभी फोन को उठाने के लिए एक सचिव था. जी हां, हर एक फोन. हर सुबह मैं लिखा करता – या बोल कर लिखवाता – और तब मैं टीवी का व्यवसाय देखता.[1]

1969 में, शेल्डन ने अपना पहला उपन्यास द नैकेड फेस लिखा, जिसने उसे मिस्ट्री राइटर ऑफ अमेरिका के सर्वश्रेष्ठ प्रथम उपन्यास की श्रेणी में एडगर एलेन पो अवार्ड के लिए नामांकित कराया. उनका अगला उपन्यास, द अदर साइड ऑफ मिडनाइट ने द न्यूयॉर्क टाइम्स के बेस्टसेलर की सूची में #1 रैंक हासिल किया, आगामी कई उपन्यासों के साथ भी ऐसा ही हुआ, इनमें से कई पर चलचित्र या टीवी के लघु धारावाहिक भी बने.

उनके उपन्यासों में अक्सर प्रतिकूल पुरुषों द्वारा संचालित सख्त दुनिया में कृत-निश्चयी महिलाओं को दृढ़तापूर्वक डटा हुआ दिखाया गया.[1] उनके उपन्यासों में रहस्य और ऐसी युक्तियां होतीं कि पाठक पृष्ठ पलटते जाने के लिए बाध्य हो जाता:[1]

"I try to write my books so the reader can't put them down," he explained in a 1982 interview. "I try to construct them so when the reader gets to the end of a chapter, he or she has to read just one more chapter. It's the technique of the old Saturday afternoon serial: leave the guy hanging on the edge of the cliff at the end of the chapter."

उनके पाठकों में ज्यादातर महिलाएं थीं.[1] ऐसा क्यों है, इस पर उन्होंने कहा था: "जो प्रतिभावान और सक्षम हैं, मैं ऐसी महिलाओं के बारे में लिखना पसंद करता हूं, लेकिन सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि उनके नारीत्व को बनाये रखता हूं. महिलाओं के पास जबरदस्त शक्ति - उनका नारीत्व है, क्योंकि पुरुष इसके बिना कुछ नहीं कर सकते."[1] किताबें शेल्डन के पसंदीदा माध्यम थे. उन्होंने टिप्पणी की, "मुझे पुस्तक लेखन से प्यार है". फिल्म "एक सहयोगपूर्ण माध्यम हैं, और हर कोई आपको अपनी टिप्पणी दिया करता है. आप जब एक उपन्यास लिखते हैं तब वो आपका अपना होता है. इसमें जो स्वतंत्रता है वो किसी अन्य माध्यम में नहीं है."[1]

शेल्डन ने स्क्रीन जेम्स के साथ सह-निर्माता के रूप में आई ड्रीम ऑफ जैनी की रचना की, उसका निर्माण और लेखन किया. "द पैटी ड्यूक शो" की पटकथा लिखते हुए उन्होंने पांच सालों में दो दर्जन पटकथा लिखी, कभी-कभी उन्होंने तीन छद्मनाम {"मार्क रॉवेन", "एलेन डिवॉन", "क्रिस्टोफर गोलेटो"} का भी इस्तेमाल किया. उन्होंने इन्हीं छद्मनामों का उपयोग नैंसी के सभी सत्रह एपिसोड में भी किया. शेल्डन ने ऐसा इसलिए किया क्योंकि उन्हें लगने लगा कि उनका नाम अक्सर टीवी धारावाहिक के रचयिता, निर्माता, कॉपीराइट स्वत्वाधिकारी और टीवी श्रृंखला के लेखक के रूप में आता है. बाद में, उन्होंने इसे स्वीकार भी किया.

रंगमंच और फिल्म अभिनेत्री जोरजा कर्टराइट शेल्डन, जो बाद में दक्ष और जानीमानी इंटीरियर डिजाइनर बन गयीं, के साथ शेल्डन ने 30 वर्षों तक शादी-शुदा जीवन बिताया. दिल का दौरा पड़ने से 1985 में जोरजा का देहांत हो गया. इसके बाद 1989 में लॉस वेगास में उन्होंने पूर्व बाल अभिनेत्री और मेसिडोनिया मूल की[3] एलेक्जेंड्रा कोस्टॉफ से विवाह किया. उनकी पुत्री मैरी शेल्डन अपने बल पर उपन्यासकार बनी.

वे सालों से बाइपोलर विकार से पीडि़त रहे, 17 साल की उम्र में उन्होंने आत्महत्या का प्रयास किया था (उनके पिताजी की बातों से इसका खुलासा हुआ); जैसा कि 2005 में प्रकाशित हुई उनकी आत्मकथा द अदर साइड ऑफ मी में इसका विस्तार से वर्णन है.

30 जनवरी 2007 को निमोनिया की जटिलता बढ़ जाने के कारण कैलिफोर्निया के रैंनचो मीराज के आईजनहॉवर मेडिकल सेंटर में शेल्डन का निधन हो गया.[2][4]'

उनका अंतिम संस्कार किया गया. उनकी राख वेस्टवुड विलेज मेमोरियल पार्क कब्रगाह में दफनायी गयी.

पुरस्कार[संपादित करें]

शेल्डन को द बैचलर एंड द बॉबी सॉक्सर के लिए [[मूल पटकथा लेखन (1947) का एकाडमी अवार्ड|मूल पटकथा लेखन (1947) का एकाडमी अवार्ड]] मिला, उनके रेडहेड के लिए म्युजिक टॉनी अवार्ड (1959) मिला और NBC सिटकॉम के आई ड्रीम ऑफ जैनी में उनके किए काम पर एमी अवार्ड के लिए नामांकित किया गया.

ग्रंथसूची[संपादित करें]

उपन्यास[संपादित करें]

(1973)

आत्मकथा[संपादित करें]

ब्रॉडवे नाटक[संपादित करें]

फिल्में[संपादित करें]

टेलीविज़न[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]

बाहरी लिंक[संपादित करें]

साँचा:Sheldon


साँचा:AcademyAwardBestOriginalScreenplay1940-1949