कुत्ता

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(श्वान से अनुप्रेषित)
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
कुत्ता
श्वान, कुक्कुर
जीवाश्म काल: 0.015–0 मिलियन वर्ष
प्लेस्टोसीन – वर्तमान
पीले लैब्रेडॉर रिट्रीवर श्वान का चित्र, जो वर्तमान की बहुप्रचलित प्रजातियों में से एक हैकुत्तों की अन्य चित्र
पीले लैब्रेडॉर रिट्रीवर श्वान का चित्र, जो वर्तमान की बहुप्रचलित प्रजातियों में से एक है
कुत्तों की अन्य चित्र
संरक्षण स्थिति
Domesticated
वैज्ञानिक वर्गीकरण
अधिजगत: एव्कार्योता
जगत: पशु
उपजगत: एव्मेताज़ोआ
संघ: कशेरुकी
उपसंघ: वेर्तेब्राता
वर्ग: स्तनपायी
उप-वर्ग: थेर्या
गण: कार्नीवोरा
उपगण: कानीफ़ोर्म्या
कुल: कानीदै
उपकुल: कानीनै
ट्राइब: कानीनै[1]
प्रजाति: कानीस्
जाति: सी लूपूस्
उपजाति: C. l. familiaris
त्रिपद नाम
Canis lupus familiaris
पर्याय
  • Canis familiaris
  • Canis familiaris domesticus

कुत्ता या श्वान भेड़िया प्रजाति की एक उपप्रजाति है। यह मनुष्य के पालतू पशुओं में से एक महत्त्वपूर्ण प्राणी है। इनके द्वारा तंत्रिका तंत्र को प्रभावित करने वाली एक भयंकर बीमारी रेबीज होती है। इसकी मादा को कुतिया और शावक को पिल्ला कहते हैं।

उत्पत्ति और विकास[संपादित करें]

कुत्ते 11-16,000 साल पहले पश्चिमी यूरोप में भेड़िया को पालतू बनाने से शुरू हुए थे। यह समय जब मानव शिकारी थे के दौरान का है।[2] हो सकता है की आद्य-कुत्ते प्रारंभिक मानव द्वारा शिकार के बाद छोड़ दिये गये शवों का लाभ लेते थे, साथ ही शिकार लो पकड़ने में सहायता प्रदान करते थे और बड़े शिकारियों से रक्षा प्रदान करते थे।

मनुष्यों के साथ भूमिका[संपादित करें]

प्रारंभिक मानव के लिए कुत्तों का मूल्य, कुत्तों को दुनिया भर के संस्कृतियों में सर्वव्यापी बनाने मे सहायक था। मानव समाज पर कुत्तों प्रभाव से कुत्तों को उपनाम "आदमी का सबसे अच्छा दोस्त" मिला।[3][4][5][6][7][8]

प्रारंभिक भूमिका[संपादित करें]

भेड़ियों और उनके कुत्ते वंशज, मानव शिविरों के पास रहने से उनका महत्त्वपूर्ण लाभ प्राप्त होगा जैसे- अधिक सुरक्षा, अधिक विश्वसनीय भोजन स्रोत और अधिक मौका प्रजनन करने का।[9] साथ ही मनुष्य को भी अपने शिविरों के पास रहने वाले कुत्तों से भारी लाभ प्राप्त हुआ होगा।[10] कुत्ते बर्बाद खाने की सफाई करते थे और वे शिकारियों या अजनबियों की उपस्थिति के बारे में शिविर को सतर्क कर देते होगे।[10] मानवविज्ञानी यह विश्वास करते हैं कि प्रारंभिक मानव को शिकार मे कुत्तो की संवेदनशील सूंघने की शक्ति का महत्वपूर्ण लाभ मिला होगा।[10][11] आपसी सहअस्तित्व से प्रारंभिक मानव और आद्य-कुत्तों की जीवित रहने की संभावना बहुत बढ़ी। साइबेरिया से उत्प्रवासी संभावना साथी के रूप में कुत्तों के साथ बेरिंग जलसन्धि को पार किये होगे।[12] मूल अमेरिकी आदिवासीयो मे कुत्तों का महत्व अधिक था, वे वजन ले जाने के लिए उन्हें इस्तेमाल किया करते थे।[13][14]

पालतू जानवर के रूप[संपादित करें]

कुत्तों को पालतू जानवर के रूप में रखने का एक लंबा इतिहास है।[15] पुरातत्त्ववेत्ता को इसराइल मे खुदाई के दौरान एक बुजुर्ग मानव और एक चार से पांच महीने की उम्र के पिल्ले के अवशेष एक साथ दफन मिले।[16] शुरू में कुत्तों को घर की रक्षा के लिए पालतू जानवर के रूप में रखा जाता था।[15][17]

लेकिन धीरे-धीरे समय के साथ कुत्ते, मानव जीवन और परिवार का हिस्सा बन गये।[18][19][20] कुत्ते टीवी पर आदर्श पालतू जानवर के रूप में दिखाये गए और कई लोकप्रिय टीवी शो किये गए जिनमे कुत्तों को नायक के रूप में दिखाया गया।[21][22] 2009-2010 में राष्ट्रीय पालतू जानवर के मालिक के सर्वेक्षण के अनुसार केवल संयुक्त राज्य अमेरिका में 7,75,00,000 लोगो के पास पालतू कुत्ते है।[23]

इन्हें भी देखें: कुत्तों की नस्लों की सूची
Border Collie liver portrait.jpg


संदर्भ[संपादित करें]

  1. Macdonald, David; Claudio Sillero-Zubiri (2004). The Biology and Conservation of Wild Canids. Oxford: Oxford University Press. pp. 45–46. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0198515561. 
  2. Freedman, Adam H.; Gronau, Ilan; Schweizer, Rena M.; Ortega-Del Vecchyo, Diego; Han, Eunjung; Silva, Pedro M.; Galaverni, Marco; Fan, Zhenxin एवम् अन्य (16 January 2014). "Genome Sequencing Highlights Genes Under Selection and the Dynamic Early History of Dogs". PLOS Genetics (PLOS Org) 10 (1): e1004016. doi:10.1371/journal.pgen.1004016. PMC 3894170. PMID 24453982. http://www.plosgenetics.org/article/info%3Adoi%2F10.1371%2Fjournal.pgen.1004016. अभिगमन तिथि: November 7, 2014. 
  3. Derr, Mark. "How Dog's Evolved Into "Our Best Friend"". NPR. http://www.npr.org/2011/11/08/142100653/how-dogs-evolved-into-our-best-friends. अभिगमन तिथि: 10 October 2013. 
  4. Paton, Bernadette (2013). "The dog: man’s best friend?(The use of mans best friend has usually been about dogs. They are hard working and reliable mammals).". Oxford English Dictionary. http://public.oed.com/aspects-of-english/word-stories/dog/. अभिगमन तिथि: July 5, 2013. 
  5. Martin, Gary. "Man's Best Friend." The Phrase Finder. N.p., n.d. Web. 13 July 2013. <http://www.phrases.org.uk/meanings/mans-best-friend.html>.
  6. Van Winkle, C.S., ed. Vol. 4. New York: C.S. Van Winkle, 1821. 123. The New-York Literary Journal, and Belles-lettres Repository, Volume 4. University of Minnesota. Web. 13 July 2013. <http://books.google.com/books?id=raceAQAAMAAJ&pg=PA124&lpg=PA124&dq=faithful+dog>.
  7. Coren, Stanley (2009-10-21). ""A Man's Best Friend is his Dog": The Senator, the Dog, and the Trial". Psychology Today. http://www.psychologytoday.com/blog/canine-corner/200910/man-s-best-friend-is-his-dog-the-senator-the-dog-and-the-trial. अभिगमन तिथि: 2010-09-27. 
  8. The Trial of Old Drum – New York Times Television Review – June 9, 2000
  9. Groves, Colin (1999). "The Advantages and Disadvantages of Being Domesticated". Perspectives in Human Biology 4: 1–12. ISSN 1038-5762. 
  10. Tacon, Paul; Pardoe, Colin (2002). "Dogs make us human". Nature Australia 27 (4): 52–61. 
  11. Ruusila, Vesa; Pesonen, Mauri (2004). "Interspecific cooperation in human (Homo sapiens) hunting: the benefits of a barking dog (Canis familiaris)". Annales Zoologici Fennici 41 (4): 545–9. http://www.sekj.org/PDF/anzf41/anzf41-545.pdf. 
  12. A History of Dogs in the Early Americas, Marion Schwartz, 1998, 260 p., ISBN 978-0-300-07519-9, Yale University Press
  13. "The University of Maine - UMaine News - UMaine Student Finds Oldest Known Domesticated Dog in Americas". Umaine.edu. 11 January 2011. http://umaine.edu/news/blog/2011/01/11/umaine-student-finds-oldest-known-domesticated-dog-in-americas/. अभिगमन तिथि: 4 July 2013. 
  14. Derr, Mark (2004). A dogs history of America. North Point Press.  p.12
  15. Derr, Mark (1997). Dog's Best Friend. Chicago: University of Chicago Press. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0-226-14280-9. 
  16. Clutton-Brock, Juliet (1995), "Origins of the dog: domestication and early history", in Serpell, James, The domestic dog: its evolution, behaviour and interactions with people, Cambridge: Cambridge University Press, आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0-521-41529-2 
  17. Franklin, A (2006). "Be[a]ware of the Dog: a post-humanist approach to housing". Housing Theory and Society 23 (3): 137–156. doi:10.1080/14036090600813760. ISSN 1403-6096. 
  18. Katz, Jon (2003). The New Work of Dogs. New York: Villard Books. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0-375-76055-5. 
  19. Haraway, Donna (2003). The Companion Species manifesto: Dogs, People and Significant Otherness. Chicago: Prickly Paradigm Press. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0-9717575-8-5. 
  20. Power, Emma (2008). "Furry Families: Making a Human-Dog Family through Home". Social and Cultural Geography 9 (5): 535–555. doi:10.1080/14649360802217790. 
  21. Bradshaw, John; Blackwell, Emily J.; Casey, Rachel A. (2009). "Dominance in domestic dogs: useful construct or bad habit?". Journal of Veterinary Behavior (Elsevier) 4 (3): 135–144. doi:10.1016/j.jveb.2008.08.004. Archived from the original on 27 August 2010. http://www.webcitation.org/5sIbRXtwx. 
  22. Tannen, Deborah (2004). "Talking the Dog: Framing Pets as Interactional Resources in Family Discourse". Research on Language and Social Interaction 37 (4): 399–420. doi:10.1207/s15327973rlsi3704_1. ISSN 1532-7973. 
  23. "U.S. Pet Ownership Statistics". http://www.humanesociety.org/issues/pet_overpopulation/facts/pet_ownership_statistics.html. अभिगमन तिथि: 24 June 2010.