शुक्र पारगमन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
The sun in false-color yellow, as seen in the 171 ångström wavelength, with Venus in the top-right quadrant.
171 एंगस्ट्रोम (1.17 नैनोमीटर)
The sun in orange, as seen from the visible spectrum, with Venus in the top left quadrant.
सतत दृश्य वर्णक्रम
नासा के सोलर डायनामिक ओब्सर्वेटरी से खींची गई, शुक्र के 2012 के पारगमन की दृश्य वर्णक्रम और पराबैंगनी कृत्रिम-रंग छवियां।

शुक्र पारगमन (Transit of Venus), तब होता है जब शुक्र ग्रह सीधे सूर्य और पृथ्वी (या कोई अन्य ग्रह) के बीच आ जाता है। पारगमन के दरम्यान शुक्र ग्रह सूर्य के मुखाकृति पर एक तिल की भांति नजर आता है तथा आरपार खिसकता हुआ दिखाई देता है। यह सूर्य के मामूली हिस्से भर को ढंक पाता है। इस तरह के पारगमन के दौर आम तौर पर (2012 का पारगमन 6 घंटे और 40 मिनट तक चला था) घंटों में मापे गए है। पारगमन असल में चंद्रमा द्वारा किए गए किसी सूर्यग्रहण के समान है। शुक्र का व्यास चन्द्रमा का तिगुना है फिर भी छोटा दिखाई देता है और सूर्य के मुखाबिंद के आरपार बहुत धीमे चलता हुआ प्रतीत होता है क्योंकि यह पृथ्वी से अपेक्षाकृत कहीं अधिक दूर है।

शुक्र के पारगमन दुर्लभतम पूर्वानुमानित खगोलीय घटना में से हैं।[1] पारगमन चक्रों में पाए जाते है और सामान्यतया हर 243 वर्षों में दोहराएं जाते है। पहले दो पारगमन आठ वर्षों के अंतराल में होते है, फिर करीब 105.5 वर्षीय या 121.5 वर्षीय लंबा विराम और फिर से वहीं आठ वर्षीय अंतराल के नए पारगमन जोड़ो का दौर शूरू होता है। इस दोहराहट के असल कारण पृथ्वी व शुक्र के कक्षीय अनुनादों में छिपे हुए है जो क्रमशः 8 :13 और 243 :395 है।[2][3]

शुक्र का विगत पारगमन 5 व 6 जून 2012 को था, साथ ही यह 21 वीं सदी का अंतिम शुक्र पारगमन भी था, इसके पूर्व का पारगमन 8 जून 2004 को संपन्न हुआ। पारगमन की पूर्ववर्ती जोड़ी दिसंबर 1874 और दिसंबर 1882 में हुई; आगामी जोड़ी दिसंबर 2117 और दिसंबर 2125 में घटित होगी।[4][5][6]

अतीत और भविष्य के पारगमन[संपादित करें]


शुक्र के अतीत के पारगमन
पारगमन
तिथि
समय (यूटीसी) नोट्स पारगमन पथ
(एचएम समुद्री
पंचांग कार्यालय)
आरंभ मध्य समापन
23 नवम्बर 1396 15:45 19:27 23:09 आखिरी पारगमन जोड़ी का भाग नहीं था। [1]
25–26 मई 1518 22:46
25 मई
01:56
26 मई
05:07
26 मई
[2]
23 मई 1526 16:12 19:35 21:48 पिछला पारगमन दूरबीन के आविष्कार से पहले हुआ [3]
7 दिसम्बर 1631 03:51 05:19 06:47 केपलर द्वारा पूर्वानुमानित [4]
4 दिसम्बर 1639 14:57 18:25 21:54 होरोक्स और क्रेबट्री द्वारा प्रेक्षित प्रथम पारगमन [5]
6 जून 1761 02:02 05:19 08:37 लोमोनोसोव, चैप डी'ओटेरोच और अन्यों द्वारा रूस से प्रेक्षित [6]
3–4 जून 1769 19:15
3 जून
22:25
3 जून
01:35
4 जून
पारगमन प्रेक्षण के लिए जेम्स कुक ताहिती को भेजे गए [7]
9 दिसम्बर 1874 01:49 04:07 06:26 पिएत्रो ताचिनी मुद्दापुर, भारत का अभियान दल संभालते है, एक फ्रेंच अभियान दल न्यूजीलैंड के कैंपबेल द्वीप को कूच करता है और एक ब्रिटिश अभियान दल हवाई द्वीप की यात्रा करता है। [8]
6 दिसम्बर 1882 13:57 17:06 20:15 John Philip Sousa composes a march, the "Transit of Venus", in honor of the transit.[7] [9]
8 जून 2004 05:13 08:20 11:26 विभिन्न मीडिया नेटवर्क विश्व स्तर पर शुक्र पारगमन का सीधा वीडियो प्रसारण करते है। [10]
5–6 जून 2012 22:09
5 जून
01:29
6 जून
04:49
6 जून
प्रशांत और पूर्वी एशिया से अपनी संपूर्णता में दिखाई देता है, पारगमन की शुरुआत उत्तरी अमेरिका से और समापन यूरोप से दिखाई देता है, प्रथम पारगमन जब एक अंतरिक्ष यान शुक्र की परिक्रमा करता है। [11]
शुक्र के भविष्य के पारगमन
पारगमन
तिथि
समय (यूटीसी) नोट्स पारगमन पथ
(एचएम समुद्री
पंचांग कार्यालय)
आरंभ मध्य समापन
10–11 दिसम्बर 2117 23:58
10 December
02:48
11 December
05:38
11 December
Visible in entirety in eastern China, Japan, Taiwan, Indonesia, and Australia. Partly visible on extreme U.S. West Coast, and in India, most of Africa, and the Middle East. [12]
8 दिसम्बर 2125 13:15 16:01 18:48 Visible in entirety in South America and the eastern U.S. Partly visible in Western U.S., Europe, and Africa. [13]
11 जून 2247 08:42 11:33 14:25 Visible in entirety in Africa, Europe, and the Middle East. Partly visible in East Asia and Indonesia, and in North and South America. [14]
9 जून 2255 01:08 04:38 08:08 Visible in entirety in Russia, India, China, and western Australia. Partly visible in Africa, Europe, and the western U.S. [15]
12–13 दिसम्बर 2360 22:32
12 December
01:44
13 December
04:56
13 December
Visible in entirety in Australia and most of Indonesia. Partly visible in Asia, Africa, and the western half of the Americas. [16]
10 दिसम्बर 2368 12:29 14:45 17:01 Visible in entirety in South America, western Africa, and the U.S. East Coast. Partly visible in Europe, the western U.S., and the Middle East. [17]
12 जून 2490 11:39 14:17 16:55 Visible in entirety through most of the Americas, western Africa, and Europe. Partly visible in eastern Africa, the Middle East, and Asia. [18]
10 जून 2498 03:48 07:25 11:02 Visible in entirety through most of Europe, Asia, the Middle East, and eastern Africa. Partly visible in eastern Americas, Indonesia, and Australia. [19]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. McClure, Bruce (29 मई 2012). "Everything you need to know: Venus transit on June 5–6". EarthSky. Earthsky communications Inc.. http://earthsky.org/astronomy-essentials/last-transit-of-venus-in-21st-century-will-happen-in-june-2012. अभिगमन तिथि: 2 जून 2012. 
  2. Langford, Peter M. (September 1998). "Transits of Venus". La Société Guernesiaise Astronomy Section web site. Astronomical Society of the Channel Island of Guernsey. http://www.astronomy.org.gg/venustransitsb.htm. अभिगमन तिथि: 1 मार्च 2012. 
  3. Shortt, David (22 मई 2012). "Some Details About Transits of Venus". Planetary Society web site. The Planetary Society. http://www.planetary.org/blogs/guest-blogs/Some-Details-About-Transits-of-Venus.html. अभिगमन तिथि: 22 मई 2012. 
  4. Westfall, John E. (November 2003). "June 8, 2004: The Transit of Venus". Archived from the original on 8 अगस्त 2007. http://web.archive.org/web/20070808030058/http://www.lpl.arizona.edu/~rhill/alpo/transitstuff/transit2004.html. अभिगमन तिथि: 25 सितंबर 2006. 
  5. Westfall, John E.. "June 8, 2004: The Transit of Venus". alpo-astronomy.org. http://www.alpo-astronomy.org/transit/transit2004.html. अभिगमन तिथि: 8 दिसम्बर 2009. 
  6. Klotz, Irene (6 जून 2012). "Venus transit offers opportunity to study planet's atmosphere (+video)". Christian Science Monitor. http://www.csmonitor.com/Science/2012/0606/Venus-transit-offers-opportunity-to-study-planet-s-atmosphere-video. अभिगमन तिथि: 2012-06-06. 
  7. सन्दर्भ त्रुटि: <ref> का गलत प्रयोग; economist नाम के संदर्भ में जानकारी नहीं है।