शिआंग नदी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
दोंगतिंग झील का जलसम्भर क्षेत्र जिसमें शिआंग नदी नीचे-दाएँ की तरफ़ गाढ़े पीले रंग के क्षेत्र में देखी जा सकती है

शिआंग नदी (चीनी: 湘江, शिआंगजिआंग; अंग्रेज़ी: Xiang River) दक्षिणी चीन के हूनान और गुआंगशी प्रान्तों में चलने वाली एक नदी है जो यांग्त्से नदी की एक प्रमुख उपनदी भी है। यह ८५६ किमी लम्बी है जिसमें से ६७० किमी हूनान प्रान्त में पड़ते हैं। यह नदी गुआंगशी प्रान्त के हाईयांग पर्वत (海陽山, Haiyang Mountain) से शुरू होती है। यह ली नदी (漓江, Li River) से लिंगचू नहर (灵渠, Lingqu Canal) द्वारा जुड़ी हुई है। हूनान प्रान्त की राजधानी चांगशा इसी नदी के किनारे बसी हुई है।

नदी की देवियाँ[संपादित करें]

शिआंग नदी के बारे में यह मान्यता है कि इसकी रक्षा एहुआंग (娥皇, Ehuang) और नुयिंग (女英, Nüying) नामक दो देवियाँ करती हैं। कहा जाता है कि यह चीनी इतिहास के तीन अधिपति और पाँच सम्राट काल के पौराणिक राजा शुन (舜, Shun) की पत्नियाँ थीं। जब राजा की मृत्यु हुई तो दुख से बेहाल होकर उन्होंने इस नदी में आत्महत्या कर ली। शिआंग नदी पर दाग़दार बांस उगता है जिनके दाग़ों को इन देवियों के आंसू कहा जाता है। झगड़ते राज्यों के काल में चू राज्य के लोग इन देवियों को पूजते थे और सुप्रसिद्ध कवि चू युआन ने इन पूजाओं में गाए जाने वाले भजनों को अपनी 'शिआंग देवियाँ' (湘夫人, Xiang Ladies) नामक कविता में हमेशा के लिए अमर कर दिया।[1]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Poetry and Painting in Song China: The Subtle Art of Dissent, Alfreda Murck, Harvard Univ Asia Center, 2002, ISBN 978-0-674-00782-6, ... along the Xiang River or of mottled bamboo that was said to be stained with the tears of the disconsolate women ...