विश्व आर्थिक मंच

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
विश्व आर्थिक फोरम
वर्ल्ड इकॉनोमिक फोरम
स्थापना १९७१
प्रकार गैर लाभ संगठन
वैधानिक स्थिति फाउंडेशन
मुख्यालय कोलोग्नी, स्विट्ज़र्लैंड
सेवित  क्षेत्र विश्वव्यापी
सी.ई.ओ क्लॉस एम श्वाब
जालपृष्ठ http://www.weforum.org/

विश्व आर्थिक फोरम (अंग्रेज़ी:वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम) एक अंतर्राष्ट्रीय संगठन है जिसमें विश्व भर के शीर्ष व्यापार नेताओं, अंतर्राष्ट्रीय राजनीतिक नेताओं, चुने गए बौद्धिक और पत्रकार विश्व के समक्ष वर्तमान चुनौतियों पर विचार करते हैं। इन समस्याओं में प्रमुख हैं स्वास्थ्य, पर्यावरण जैसे मुद्दे जिन पर गहन मंत्रणा की जाती है और उनका समाधान तलाशने की कोशिश की जाती है। इस फोरम की स्थापना १९७१ में क्लॉस एम श्वाब ने की थी। पहले इस संगठन का नाम यूरोपियन मैनेजमेंट फोरम था, लेकिन १९८७ के बाद इसका नाम बदलकर वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम रख दिया गया।[1] यह स्वायत्त और गैर-लाभ संस्था है और किसी राष्ट्र विशेष के हितों से जुड़ी नहीं है। इस फोरम का मिशन विश्व के हालात में सुधार के प्रति कटिबद्धता है। फोरम का मुख्यालय स्विट्जरलैंड के जेनेवा शहर में है। २००६ में वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम ने अपने कार्यालय चीन के बीजिंग शहर और अमेरिका के न्यूयॉर्क तथा जापान की राजधानी टोक्यो में खोले थे। फोरम की प्रत्येक वर्ष बैठक दावोस में जनवरी के अंत में होती है। प्रत्येक साल दस क्षेत्रीय बैठकें भी होती हैं।


संरचना और कार्यशैली[संपादित करें]

क्लॉस एम श्वैब, संस्थापक एवं कार्यपालक अध्यक्ष, वर्ल्ड इकोनोमिक फोरम

इस फोरम की तीन शासकीय बॉडी हैं। फाउंडेशन बोर्ड फोरम दीर्घकालिक लक्ष्यों और उद्देश्यों को तय करता है। यह निजी एवं सार्वजनिक क्षेत्र के नेताओं से मिलकर बनता है।[1] दूसरा अंतर्राष्ट्रीय व्यापार परिषद (इंटरनेशनल बिजनेस काउंसिल) जो कि बॉडी की सलाहकार समिति के रूप में काम करता है। तीसरी बॉडी प्रबंधन बोर्ड (मैनेजिंग बोर्ड) होती है। यह आंतरिक प्रबंधन (इन-हाउस मैनेजमेंट) टीम होती है जो कि फोरम के संसाधनों को देखने का काम करती है। वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम, जी-८, विश्व बैंक, डब्ल्यूटीओ, आईएमएफ को १९९० के अंत में एंटी-ग्लोबलाइजेशन कार्यकर्ताओं के विरोध का सामना करना पड़ा था।

संदर्भ[संपादित करें]

  1. वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम।हिन्दुस्ताण लाइव।२८ जनवरी, २०१०

बाहरी सूत्र[संपादित करें]