प्राचीन ख़ुरासान

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
इस पुराने नक़्शे में ख़ोरासान नामकित है

प्राचीन ख़ुरासान (फ़ारसी: خراسان کهن, ख़ुरासान-ए-कहन) या प्राचीन ख़ोरासान मध्य एशिया का एक ऐतिहासिक क्षेत्र था जिसमें आधुनिक अफ़्ग़ानिस्तान, तुर्कमेनिस्तान, उज़बेकिस्तान, ताजिकिस्तान और पूर्वी ईरान के बहुत से भाग शामिल थे। इसमें कभी-कभी सोग़दा और आमू-पार क्षेत्र शामिल किये जाते थे। ध्यान दीजिये कि आधुनिक ईरान में एक 'ख़ोरासान प्रांत' है जो इस ऐतिहासिक ख़ुरासान इलाक़े का केवल एक भाग है।

नाम की उत्पत्ति[संपादित करें]

मध्य फारसी में 'ख़ुर' का मतलब 'सूरज' (आधुनिक फ़ारसी में 'ख़ुरशीद​') और 'असान' या 'अयान' का मतलब 'आना' होता है। 'ख़ुरासान' का मतलब है 'वह जगह जहां से सूरज आता हो' यानि 'पूर्वी ज़मीन'। यह नाम इसलिए पड़ा क्योंकि ख़ुरासान क्षेत्र ईरान से पूर्व में है।[1]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. The Abbasid Revolution, M. A. Shaban, CUP Archive, 1979, ISBN 978-0-521-29534-5, ... As the word Khurasan means literally the land of the east ...