नात्सीवाद

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
नाजीवादी जर्मनी का ध्वज

नात्सीवाद, जर्मन तानाशाह एडोल्फ हिटलर की विचार धारा थी। यह विचारधारा सरकार और आम जन के बीच एक नये से रिश्ते के पक्ष मे थी। इस के अनुसार सरकार की हर योजना मे पहल हो परंतु फिर वह योजना जनता-समाज की भागिदारी से चले। कट्टर जर्मन राष्ट्रवाद, देशप्रेम, विदेशी विरोधी, आर्य और जर्मन हित इस विचार धारा के मूल अंग है। नात्सी यहुदियों से नफरत करते थें और योरप और जर्मनी मे हर बुराई के लिये उन्हें ही दोशी मानते थे। नात्सीयों ने केंद्र मे अपनी सरकार बनते ही जर्मनी मे हिटलर की तानाशाही स्थापिक की और फिर यहुदियों के जर्मनी मे दिन भर गये। द्वितिय विश्व युद्ध मे यहुदियों के कत्ले-आम के पीछे भी नात्सीयों का ही हाथ था।