त्रिशंकु शिर तारा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
त्रिशंकु शिर, इस चित्र का सब से रोशन तारा (दाँई तरफ)

त्रिशंकु शिर, जिसका बायर नाम "बेटा क्रूसिस" (β Crucis या β Cru) है, त्रिशंकु तारामंडल का दूसरा सब से रोशन तारा है। यह पृथ्वी से दिखने वाले सब से रोशन तारों में गिना जाता है। यह पृथ्वी से लगभग 350 प्रकाश वर्ष की दूरी पर हैं। त्रिशंकुशिर वास्तव में एक द्वितारा है जो पृथ्वी से एक तारे जैसा प्रतीत होता है। इसके मुख्य तारे की श्रेणी B0.5IV है। त्रिशंकु शिर कर्क रेखा के दक्षिण में ही देखा जा सकता है इसलिए उत्तर भारत के अधिकाँश भाग में और यूरोप-वग़ैराह में नहीं देखा जा सकता। मध्य और दक्षिण भारत में इसे देखा जा सकता है।

अन्य नाम[संपादित करें]

इस तारे का कोई परंपरागत चीनी, अंग्रेज़ी, लातिनी, अरबी, फ़ारसी या यूनानी नाम नहीं है क्योंकि यह उन क्षेत्रों से देखा ही नहीं जा सकता था। आधुनिक युग में इसका नाम मिमोसा (Mimosa) रखा गया जो एक फूल है जिसकी हलकी जामुनी रंगत त्रिशंकु शिर से मिलती है।

विवरण[संपादित करें]

त्रिशंकु शिर का द्रव्यमान (मास) सूरज के द्रव्यमान का 14 गुना है और उसका व्यास (डायमीटर) सूरज के व्यास का 8 गुना है। यह एक अत्यंत गरम तारा है और इसका सतही तापमान 28,200 कैल्विन है। इसकी चमक (निरपेक्ष कान्तिमान) बहुत ज़बरदस्त है और सूरज की चमक की 34,000 गुना है।[1]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "MIMOSA". Stars. http://www.astro.uiuc.edu/~kaler/sow/mimosa.html. अभिगमन तिथि: November 28, 2005.