जावा प्रोग्रामिंग भाषा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

जावा एक प्रोग्रामिंग भाषा मूलतः सन माइक्रोसिस्टम्स (जो बाद से Oracle निगम में विलय कर दिया गया है) में जेम्स गोसलिंग द्वारा विकसित की है और सन माइक्रोसिस्टम्स जावा मंच का एक प्रमुख घटक के रूप में 1995 में जारी है. भाषा बहुत सी से अपने वाक्यविन्यास के व्युत्पन्न और सी + +, लेकिन एक सरल वस्तु मॉडल और किसी से भी कम कम स्तर की सुविधाएं है सी या सी + +.जावा अनुप्रयोगों आमतौर पर (वर्ग फ़ाइल) bytecode है कि किसी भी जावा वर्चुअल मशीन (JVM) पर कंप्यूटर वास्तुकला की परवाह किए बिना चला सकते हैं संकलित हैं. जावा एक सामान्य प्रयोजन, समवर्ती, वर्ग आधारित वस्तु उन्मुख भाषा है कि विशेष रूप से संभव के रूप में कुछ कार्यान्वयन निर्भरता के रूप में बनाया गया है. यह आवेदन डेवलपर्स "एक बार लिखने के लिए, कहीं भी चला" (WORA), एक मंच पर जिसका अर्थ है कि कोड है कि रन नहीं की जरूरत करने के लिए दूसरे पर चलाने के लिए फिर कंपाइल किया जाना नहीं करना है. जावा के रूप में उपयोग में सबसे लोकप्रिय प्रोग्रामिंग भाषाओं की एक 2012 की है, क्लाइंट सर्वर वेब अनुप्रयोगों के लिए विशेष रूप से एक रिपोर्ट 10 लाख उपयोगकर्ताओं के साथ [9] [10] है. मूल और संदर्भ कार्यान्वयन जावा compilers, आभासी मशीन, और वर्ग पुस्तकालयों सूर्य द्वारा 1995 से विकसित किए गए. मई 2007 के रूप में, जावा समुदाय प्रक्रिया, सन GNU जनरल पब्लिक लाइसेंस के तहत अपने जावा प्रौद्योगिकियों के सबसे relicensed के विनिर्देशों के साथ अनुपालन में. दूसरों को भी इन धूप प्रौद्योगिकियों के जावा और GNU क्लासपाथ के लिए GNU कंपाइलर के रूप में वैकल्पिक कार्यान्वयन, विकसित किया है.

इतिहास  :- जेम्स गोस्लिन्ग,माईक शेरिडन और पेट्रिक नौटन ने जून 1991 में जावा भाषा परियोजना (Java Language Project) प्रारंभ की | शुरु में जावा का निर्माण पारस्परिक-प्रभावित(interactive) दूरदर्शन के लिए किया गया था| लेकिन यह तकनिक उस समय कि केबल दूरदर्शन के लिए अत्याधुनिक होने के कारण खास सिद्ध साबित नही हुई | जावा का प्रारम्भिक नाम "ओक" रखा गया जो की एक ओक पेङ के उपर से रखा गया जो ठीक गोस्लिन्ग के औफ़िस के सामने स्थित था |फ़िर इसका नाम "ग्रीन" रखा गया और अन्त में "जावा " रखा गया क्योंकि इसे बनाने वाले काफ़ी का अत्याधिक सेवन करते थे | गोस्लिन्ग का उद्द्देश्य था- एक "वरचुअल मशीन" लागू करना और एक "सी/सी++" जैसी परिचित अंकन-पद्धति (notation) वाली भाषा का निर्माण करना |

जावा के सिद्धांत (Principles)  :- जावा भाषा के निर्माण के निम्नलिखित पाँच प्रमुख लक्ष्य हैं:- 1 यह सरल, उद्धेश्य-निर्धारित(object-oriented) और परिचित होनी चाहिए। 2 यह तगङी और सुरक्षित होनि चाहिए। 3 यह कंप्यूटर वास्तुकला की परवाह किए बिना चलनी चाहिए (architecture-neutral) और सुवाह्य (portable) होनि चाहिए। 4 यह उच्च्स्तरिय-क्रियाशील(high-performance) होनी चाहिए। 5 यह इनटरप्रेट(interpret)होनी चाहिए, थ्रेडेड(threaded) होनी चाहिए और गतिशील(dynamic) होनी चाहिए।

जावा के विभिन्न रुपान्तर (Java versions)  :- जावा के विभिन्न रुपान्तर और उनकी लोकार्पण(release) तिथि: JDK 1.0 (January 21, 1996) JDK 1.1 (February 19, 1997) J2SE 1.2 (December 8, 1998) J2SE 1.3 (May 8, 2000) J2SE 1.4 (February 6, 2002) J2SE 5.0 (September 30, 2004) Java SE 6 (December 11, 2006) Java SE 7 (July 28, 2011) Java EE 7 (October 27, 2013)