ख़ितानी लोग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
ख़ितानी लोग शिकार के लिए पालतू चीलों का इस्तेमाल करते थे
चंगेज़ ख़ान के मंगोल साम्राज्य से पहले १३वीं सदी में यूरेशिया के स्थिति - कारा-ख़ितान राज्य नक़्शे में दिख रहा है

ख़ितानी लोग (मंगोल: Кидан, किदान; फ़ारसी: ختای, ख़िताई; चीनी: 契丹, चिदान) ४थी सदी ईसवी से मंगोलिया और मंचूरिया में बसने वाले एक मंगोल जाति के लोग थे। १०वीं सदी तक उन्होंने उत्तरी चीन के एक बड़े इलाक़े पर अपनी धाक जमा ली थी और लियाओ राजवंश स्थापित कर लिया था। सन् ११२५ में यह राजवंश ख़त्म हो गया और ख़ितानी पश्चिम की ओर कूच कर गए जहाँ उन्होंने कारा-ख़ितान नाम का राज्य बनाया। फिर सन् १२१८ में उनकी टक्कर मंगोल साम्राज्य से हुई जिसने उनका राज हमेशा के लिए समाप्त कर दिया।[1]

ख़ितानी भाषा[संपादित करें]

ख़ितानियों की अपनी ख़ितानी भाषा हुआ करती थी, जो एक मंगोल भाषा थी। अब यह विलुप्त हो चुकी है लेकिन इसके प्रभाव कुछ स्थानों पर अभी भी देखे जा सकते हैं।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]