कोटद्वार

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
कोटद्वार
—  city  —
समय मंडल: आईएसटी (यूटीसी+५:३०)
देश Flag of India.svg भारत
राज्य उत्तराखण्ड
ज़िला पौड़ी जिला
जनसंख्या 25,400 (2001 के अनुसार )
क्षेत्रफल
ऊँचाई (AMSL)

• 454 मीटर (1,490 फी॰)
आधिकारिक जालस्थल: 210.212.78.56/50cities/kotdwar/english/home.asp

Erioll world.svgनिर्देशांक: 29°45′N 78°32′E / 29.75°N 78.53°E / 29.75; 78.53

कोटद्वार उत्तराखण्ड राज्य के पौड़ी जिले का एक मुख्य नगर है।

कोट्डवारा अथवा कोट्डवार ने प्रारम्भ में खहोहड्वारा कहा या गया माउर्यन राज्य निम्नलिखित अशोक द्वारा बाकी प्रदेश, कोट्डवारा निर्णय के साथ एक ही में अत्यधिक, तब कट्युरि राजवंश द्वारा पंवार गढवाल का राजवंश द्वारा अनुसरण किया।

हिमालय गज़ेटियर में 1882 में लिखना (खंड iii, 2 नहीं) इ. टी. अट्किंस कहते हैं कि यह था छोटा किंतु बढ़ने वाला बाज़ार तेज़ी से वाम पार्श्व खहोह का बैंकों पर भूमि के एकसमान टुकड़ा पर स्थित हुए कोट्डवार में रेल के आना पहले और बावजूद पक्की सड़क आया गया स्थापना, बहुमत पहले के अनुभव किया हुए कोट्डवारा को व्यापार करने के लिए डुगड्डा तक बैल कर्टस और घोड़ा चला कर्टस पर कहाँ से यह खच्चरों और गधों पर आगे पड़ोसी पहाड़ी शहरों में पहाड़ी बढ़ाकर पौड़ी और श्रीनगर जैसे कि वहन किया गया था

ब्रिटेन का गढवाल: गज़ेटियर में 1910, एच. जी. वाल्टोन प्रतिवेदन में जो 1887 में नजिबबड, दोनों से लांस्डोवन और रेल का विस्तार में छावनी का स्थापना, कोट्डवारा के यश में सहयोग किया था पक्की सड़क ने एक बार 1920, नगर में कोट्डवारा के उपरांत विस्तृत किया गया था। बावजूद सभी इस धनिरम मिश्रा पहले ब्रिटेन का बार कोट्डवारा के दौरान भारत पर ब्रिटेन का गढवाल का भाग था।

आवागमन[संपादित करें]

अगर आप कोटद्वार दिल्ली से आते हैँ तो गढवाल एक्सप्रेस आपके लिए अच्छा विकल्प है ।अगर आप रोडवेज से आना चाहेँ तो हरीद्वार से नजीबाबाद के रास्ते या जीएमओयू कि बसोँ से लालढाँग के रास्ते जा सकते है ।

सन्दर्भ[संपादित करें]

तह्सीलदार : उदय सिंह रावत

बाहरी सूत्र[संपादित करें]

अनिल साँचा:उत्तराखंड [[vi:Kotdwara] शुभम॑गलमशादि डाट काम्