सदस्य:Bird migration

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
bird migration

thumbnail

Migrating Birds on Saltmarshes - geograph.org.uk - 691933.jpg

जब हुम पक्षी प्रवास के बारे मे सोच्ते है तो पक्षियों के सुंदर चित्र हामारे आन्खो के साम्ने आ जाता है। कलहंस का प्रवास का अच्चा उदाहरन लिया जा सक्ता है। उत्तरी अमेरिका में पक्षियों के घोंसले 650 से अधिक प्रजातिया है। कुछ स्थायी निवासी हैं और एक ही क्षेत्र साल के दौर में रहते हैं। इन् प्रजातियों में से सबसे अधिक प्रवासी प्रजाति हैं। पक्शी प्रवास करते है ताकी वो कम या घटते संसाधनों के क्षेत्रों से निकल कर उच्च या बढ़ रही संसाधनों कि और जा साके। एक क्षेत्र में वे निवास करती हैं और प्रजनन करती है और दूसरे क्षेत्र में भोजन तथा विश्राम के हेतु जाती हैं। यह प्रकृति का विधान है कि चिड़िया प्रव्रजन क्षेत्र के ठंढे भाग में ही अंडे देती हैं। अतएव उत्तरी गोलार्ध में उनका मैथुनक्षेत्र आर्कटिक उत्तरी ध्रुव अथवा समशीतोष्ण क्षेत्र होता है, किंतु दक्षिणी गोलार्ध में इसके ठीक विपरीत, शीतकालीन आवास भूमध्य रेखा के समीप होता है।

पंख और उड़ान की अद्भुत शक्ति के कारण चिड़ियों में स्थानपरिवर्तन करने की क्षमता का विकास बहुत अधिक हुआ है।  प्रव्रजन उत्तर से दक्षिण की ओर होता है, यद्यपि कुछ प्रव्रजन पूर्व से पश्चिम की ओर भी होता है। प्रव्रजन कुछ किलोमीटर से लेकर हजारों किलोमीटर तक का होता है, जैसे कुछ चिड़ियाँ हिमालय की अधिक ऊँचाई से उतरकर उत्तरी भारत के समतल भागों में चली आती हैं और कुछ हजारों किलोमीटर सुदूर दक्षिण में चली जाती हैं। कुछ पक्शीया इस्लीये प्रवास करते है ताकी वो थान्द से बच्च सके।

प्रवास के प्रकार[संपादित करें]

अवधि प्रवास पक्षियों (या अन्य जानवर) की आबादी के आंदोलनों का वर्णन करने के लिए प्रयोग किया जाता है। प्रवास को देखने के लिए एक तरह से दूरी कूच पर विचार करना है।

    कम दूरी प्रवासियों: एक पहाड़ी पर कम उन्नयन करने के लिए ऊपर से, के रूप में केवल एक कम दूरी स्थानांतरित कर सकते हैं।
    मध्यम-दूरी प्रवासियों: कुछ प्रजातियों में से एक से कई राज्यों को उस अवधि दूरी को कवर कर सकते हैं।
    लंबी दूरी प्रवासियों: आमतौर पर सर्दियों में आगे दक्षिण मैक्सिको के लिए गर्मियों में संयुक्त राज्य अमेरिका और कनाडा से विस्तार करने और उस पर्वतमाला है कि पक्षी।

प्रवास का मूल[संपादित करें]

प्रवास की उत्पत्ति यात्रा की दूरी से संबंधित है। कम दूरी के प्रवासियों के लिए यह भोजन के लिए एक खोज के रूप में सरल है। लंबे समय से दूर प्रवास पैटर्न के मूल और अधिक जटिल हैं और पक्षी की आनुवंशिक मेकअप का विकास शामिल है।

पक्शीया कैसे प्रावास करती है[संपादित करें]

एक सुव्यवस्थित शरीर के आकार और खोखले हड्डियों से बना एक हल्के कंकाल हवा प्रतिरोध को कम करने और बनने के लिए और हवाई रहने के लिए आवश्यक है की ऊर्जा की मात्रा कम हो। विकसित छाती पर कवच की मांसपेशियों, एक विशिष्ट एवियन संरचना से जुड़े होते हैं, जीसे फुरकुलाम बुलाया यह पंखों को फड़फड़ाने की शक्ति देता है। पक्शीयो के लंबे पंख उड़ान के लिए आवश्यक लिफ्ट पैदा करने में मदद जो ऐर फोइल्स के रूप में काम करते हैं। पक्षियों अनुपात में एक मानव हृदय की तुलना में छह गुना अधिक वजन का होता है, जो एक बड़ी, चार संभाग दिल है। एक माम्माल के मुकाबाले हूम्मिग बर्द का दिल १००० बार धड़कता है। पक्षियों के फेफड़ों हवा के थैलियों मै ताजा हवा के एक निरंतर आपूर्ति के साथ फेफड़ों प्रदान करने के लिए धौंकनी के रूप में अभिनय के साथ, सभी समय पर फुलाया रहते हैं।

प्रवासियों के प्रकार[संपादित करें]

इर्रुसन :आक्रमण आमतौर पर बड़ी संख्या के पक्शी है जो आमतोर पर ब्रिटेन की यात्रा नही करते। यह कुछ उत्तरी प्रजातियों,जैसे वाक्सीग मे पाया जाता है। जब उनकी आबादी भोजन की आपूर्ति के लिए बहुत बड़ जाती है। उदाहरण के लिए एक बार जब वक्षविगस् सारा स्कैंडिनेवियाई सर्दियों तिमाहियों में सभी जामुन खा लिया तो उन्हे अधिक भोजन प्राप्त करने के लिए ब्रिटेन के लिए समुद्र पार करना पड़ता है। Irruptions केवल हर 10 साल मे एक बार दिखाइ देता है।
ऊंचाई माइग्रेशन:बजाय उत्तर और दक्षिण या पूर्व और पश्चिम के बीच पलायन के कारण, कुछ पक्षियों के ऊपर और नीचे की ओर पलायन और। इस ऊंचाई माइग्रेशन कहा जाता है। जो पक्शीया गरमीयो मे ऊपर की ओर रह्ते है वो सर्दीयो मे भोजन के लिये निचे कि और आते है।
मोउल्त प्रवासियो: जब पक्षियों नये पंख विकसित करने के क्रम में अपने पुराने पंख बहाते है इस्से मोउल्तिङ कहा जाता है। सारे पक्षियों मे यहा देखा जाता है।
गर्मियों के आगंतुकों: माइग्रेशन आगंतुकों प्रजनन के लिए दक्षिण से वसंत ऋतु में आने वाले पक्षियों हैं। वह आपने गर्मिया याहा बिताते है ओर शरद ऋतु में वापस दक्षिण को चले जाते है।

प्रवासन के खतरे[संपादित करें]

माइग्रेशन के दौरान मौत एक भारी टोल लेता है। अनुमान लगाया गया है की आधे से ज्यादा प्रवासियों यह सर्दियों मै दक्षिण शीर्षक जाते है पर वसंत ऋतु में प्रजनन के लिए वापस नहीं आते है। शिकार और खराब मौसम एक प्राकृतिक कारण हो सकता है। लंबे इमारतों के साथ टकराव,खिड़कियां के साथ टकराव, गोली मार देना या शिकारी द्वारा जाल मे फंस लेना, ऑटोमोबाइल के घेरे में आ जाना कई मानव निर्मित खतरे हैं। कई पक्षियों असली आकाश और एक खिड़की में आकाश का एक प्रतिबिंब के बीच अंतर भेद नहीं कर सकते। Muhlenberg कॉलेज के डॉ दान क्लेम प्रत्येक वर्ष का अनुमान है कि संयुक्त राज्य अमेरिका अकेले में, प्रवास के दौरान 98-976,000,000 पक्षियों खिड़कियों में पूरे ज़ोर से उड़ान भरने और प्राणघातक रूप से घायल हो गए हैं। डॉ क्लेम हम एक गैर चिंतनशील खिड़की कोटिंग, विंडो स्क्रीन, फ्लैश टेप और पक्षी जाल के साथ खिड़की के बाहर पर प्रतिबिंब को तोड़ने के द्वारा इन टक्करों को कम से कम कर सकते हैं। पौधे लगाने और खिड़की awnings की स्थापना करने से सुरज की किरने नही गिरेगी और यहा प्रतिबिंब को खत्म कर सकता है। इस्से टकराव नही होगा। पक्षिया जब दक्षिण मे जती है उन्हे रहने के लिये जगह भी नही मिलता है। क्युकी सरे जंगल की कटौती भी ज्यदा हो जयी है।

पक्षियों की मदद करने के लिये कुछ अंक[संपादित करें]

मृत पेड़ों प्रवासी पक्षियों के लिए आश्रय, घोंसला और खाद्य (कीड़े) प्रदान करते हैं। हर्बिसैतेस्, फुङिसतिएस् और कीटनाशकों - पक्षियों के लिए घातक हो सकता है। पक्षी भक्षण, बीज, फल और अमृत भक्षण, और फल बाहर डाल देना चहिये ताकी पक्षी उसे खा सके। पानी के स्रोत (विशेष रूप से एक चलती स्रोत) होने में अधिक प्रवासी पक्षियों को आकर्षित कर सकता हैं।

सन्दर्भ[संपादित करें]

http://www.birds.cornell.edu/AllAboutBirds/studying/migration/ http://www.birds.cornell.edu/AllAboutBirds/studying/migration/patterns www.birds.cornell.edu/AllAboutBirds/studying/migration/patterns A TEXT BOOK OF VERTEBRATE ZOOLOGY, KOTPAL