यमक अलंकार

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(यमकालंकार से अनुप्रेषित)
Jump to navigation Jump to search

जब एक शब्द प्रयोग दो बार होता है और दोनों बार उसके अर्थ अलग-अलग होते हैं तब यमक अलंकार होता है।

उदाहरण - १ ऊँचे घोर मन्दर के अन्दर रहन वारी, ऊँचे घोर मन्दर के अन्दर रहाती हैं। (यहाँ पर मन्दर के अर्थ हैं अट्टालिका और गुफा।) २ कनक-कनक ते सौ गुनी मादकता अधिकाय, या खाये बौराय जग, वा पाये बौराय। (यहाँ पर कनक के अर्थ हैं धतूरा और सोना।)

३ ( सजना है मुझे सजना के लिए) यहाँ पर एक 'सजना' का अर्थ 'सजना - सँवरना' तथा दूसरे 'सजना' का अर्थ 'पति' से है