मेइतेइ मायेक लिपि

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(मैतै मयेक लिपि से अनुप्रेषित)
Jump to navigation Jump to search
मेइतेइ मायेक
Meithei manuscript, a Indian language.jpg
बोली जाने वाली भाषाएं मणिपुरी भाषा
यूनिकोड रेंज U+ABC0..U+ABFF
U+AAE0..U+AAFF
ISO 15924 MteiMtei
नोट: इस पन्ने पर यूनिकोड में IPA ध्वन्यात्मक चिह्न हो सकते हैं।

मेइतेइ लिपि या मेइतेइ मायेक १८वीं सदी तक मणिपुरी भाषा के लिये इस्तेमाल होने वाली एक लिपि थी। धीरे-धीरे मणिपुरी लिखने के लिये इसका स्थान बंगाली लिपि ने ले लिया। २०वीं सदी के अन्त में इसे फिर से प्रयोग में लाने के लिये कुछ प्रयास किए जा रहे थे।[1]

व्यंजन, स्वर तथा अन्य वर्ण[संपादित करें]

मेइतेइ लिपि में १५ व्यंजन और ३ स्वर लिखने के चिह्न उपलब्ध हैं। इनके अलावा अन्य भारतीय लिपियों से लिये गये ९ अतिरिक्त चिह्न भी उपलब्ध हैं। हर अक्षर का नाम शरीर के किसी भाग पर रखा गया है। मसलन प्रथम अक्षर 'क' की ध्वनि रखता है और उसका नाम 'कोक' (अर्थात 'सिर') है। दूसरे अक्षर का नाम 'साम' (यानि 'बाल') और तीसरे का नाम 'लाइ' (यानि 'माथा') है।

इसके अतिरिक्त मेइतेइ में ८ विशेष वर्ण हैं जो अक्षर (syllables) के अन्त में लगाए जाते हैं स्वरविहीन व्यंजन हैं (प् त् क् म् न् ङ् ल्) । इस प्रकार अक्षरान्त (सिलैबल ब्रेक) को देखना आसान हो जाता है।

मेइतेइ माएक लिपि की कुछ विशिष्टताएँ[संपादित करें]

  • स्वतंत्र स्वरों में केवल अ, इ, उ के लिए अलग संकेत हैं। बाकी स्वतंत्र स्वरों को 'अ' के ऊपर मात्रा लगाकर लिखते हैं, जैसे 'ए' लिखने के लिए 'अ' के ऊपर 'ए की मात्रा' लगा दिया जाता है।
  • छ, ञ, ट, ठ, ड, ढ, ण के लिए संकेत नहीं हैं। अर्थात मूल मणिपुरी शब्दों के लिए इनका उपयोग नहीं होता। उदाहरण के लिए 'मणिपुर' को मणिपुरी लिपि में 'मनिपुर' लिखा जाता है। यूनिकोड 6 में विस्तारित करने के बाद ये वर्ण अब यूनिकोड में उपलब्ध हैं। भारतीय भाषाओं (जैसे संस्कृत) के शब्दों को लिखने के लिए इनका उपयोग किया जा सकता है।
  • संयुक्त होने पर वर्णों के रूप नहीं बदलते, जैसे अधिकांश भारतीय लिपियों में होता है।
  • वे स्वरविहीन व्यंजन जो अक्षर (सिलैबल) के अन्त में नहीं हैं, उनके तथा उनके बाद वाले व्यंजन के नीचे एक रेखा लगा दी जाती है जो उनके संयुक्ताक्षर होने का संकेत करती है।
  • सिलैबिल के अन्त में आने वाले वर्ण (लोनसुम), एक प्रकार से सिलैबिल के अन्त का भी संकेत करते हैं। ये वर्ण मूल वर्णों से कुछ भिन्नता लाकर बनाए गए हैं।
  • यह नहीं कहा जा सकता कि यह लिपि, किस लिपि से उद्भूत (निकली) है।
वर्ण अक्षरान्त देवनागरी वर्ण का नाम (अर्थ)
क / क् ꯀꯣꯛ / कोक् (सिर)
ꯁꯝ / सम् (केश/बाल)
ल / ल् ꯂꯥꯏ / लाई (ललाट)
म / म् ꯃꯤꯠ / मित् (आँख)
प / प् ꯄꯥ / पा (बरौनी/पलक)
न /न् ꯅꯥ / ना (कान)
ꯆꯤꯜ / चिल् (ओठ)
त /त् ꯇꯤꯜ / तिल् (लार )
ꯈꯧ / खौ (गला)
ङ /ङ् ꯉꯧ / ङौ (आत्मा)
ꯊꯧ / थौ (छाती)
ꯋꯥꯏ / वाई (हृदय?)
ꯌꯥꯡ / याङ् (पीठ/रीढ़)
ꯍꯨꯛ / हुक् (अस्थि जोड़?)
ꯎꯟ / उन् (त्वचा)
इ / ई ꯏ / ई (रक्त)
ꯐꯝ / फम् (मल)
ꯑꯇꯤꯌꯥ / अतिया (आकाश)
ꯒꯣꯛ / गोक्
ꯓꯝ / झम्
ꯔꯥꯏ / राई
ꯕꯥ / बा
ꯖꯤꯜ / जिल्
ꯗꯤꯜ / दिल्
ꯘꯧ / घौ
ꯙꯧ / धौ
ꯚꯝ / भम्
विस्तारित व्यंजन
ꫢ -- छ
ꫣ -- ञ
ꫤ -- ट
ꫥ -- ठ
ꫦ -- ड
ꫧ -- ढ़
ꫨ -- ण
ꫩ -- श
ꫪ -- ष

मात्राएँ[संपादित करें]

यहाँ मात्राओंरों को '' (क) के ऊपर लगाकर मात्राओं का स्वरूप दिखाया गया है।

मात्राएँ ꯀꯣ ꯀꯤ ꯀꯥ ꯀꯦ ꯀꯧ ꯀꯨ ꯀꯩ ꯀꯪ
तुल्य देवनागरी को कि का के कौ कु कै कं

अन्य वर्ण[संपादित करें]

यदि ( ) , अक्षर (syllable) के अन्त में लगा हो तो इसका अर्थ कि अक्षर का टोन धीमा (downkey) होगा।

व्यंजनों का संयुक्त रूप दिखाने के लिए दोनों संयुक्त व्यंजनों के नीचे रेखा ( ) खींच दी जाती है। उदाहरण के लिए, ꯄ꯭ꯔ = 'प्र' । नीचे वाली रेखा के यूनिकोड का स्थान, दोनों व्यंजनों के यूनिकोड के बीच में होता है।

वाक्य के अन्त का सूचक -- ( )

अंक और संख्या[संपादित करें]

अंक 0 1 2 3 4 5 6 7 8 9
मेइतेइ में

फुन्

अमा

अनि

अहुम्

मारि

मङा

तरुक

निपाल

मापल

तरा

कुछ उदाहरण[संपादित करें]

नीचे कुछ मसालों के नाम मेइतेइ लिपि तथा देवनागरी लिपि में अर्थ सहित दिए गए हैं-

ꯀꯐꯣꯢ - कफोइ - Pomegranate

ꯛꯔꯤ ꯄꯇꯥ - करि पता - Curry leaves

ꯀꯨꯁꯨꯝꯂꯩ - कुसुमलै - Safflower

ꯀꯦꯁꯔ - केशर - Saffron

ꯀꯦꯇꯨꯀꯤ - केतुकी - Kewra flowers

ꯀꯦꯇꯦꯀꯤ - केतेकी - Kewra flowers

ꯀꯣꯝꯂꯥ - कोमला - Orange

ꯁꯤꯡ - शिङ - Ginger

ꯂꯩꯁꯥꯕꯤ - लैशाबी - Paracress

ꯂꯧꯡ - लौङ - Cloves

ꯃꯆꯨ - मचु - Turmeric

ꯃꯌꯥꯡꯇꯣꯟ - मयाङतोन - Basil

ꯃꯪꯒꯦ - मंगे - Tamarind

ꯃꯨꯛꯊ꯭ꯔꯨꯕꯤ - मुक्थ्रूबी - Sichuan Pepper

ꯃꯦꯊꯤ - मेथि - Fenugreek Seeds

ꯃꯣꯅꯁꯥꯎꯕꯤ ꯃꯥꯅꯕꯤ - मोनशाओबी मानबी - Epazote

ꯃꯣꯔꯣꯛ - मोरोक - Chile

ꯄꯨꯗꯤꯅꯥ - पुदिना - Peppermint

ꯄꯥꯈꯣꯟ - पाखोन - Dill

ꯅꯨꯁꯤꯍꯤꯗꯥꯛ - नुशीहीदाक - Peppermint

ꯅꯥꯎꯁꯦꯛ ꯂꯩ - नाओशेक लै - Basil

ꯆꯝꯄ꯭ꯔꯥ - चम्प्रा - Lime

ꯆꯅꯝ - चनम - Garlic

ꯆꯈꯣꯡ ꯃꯆꯥ - चखोङ मचा - Water Pepper

ꯆꯥꯟꯇ꯭ꯔꯨꯛ - चान्त्रुक - Cresses

ꯇꯨꯜꯁꯤ - तुलसी - Basil

ꯇꯨꯜꯁꯤꯄꯝꯕꯤ - तुलसीपम्बी - Basil

ꯇꯨꯅꯤꯡꯀꯣꯛ - तुनिङकोक - Chameleon plant

ꯇꯤꯜꯍꯧ - तिलहौ - Onion & Shallot

ꯇꯦꯖꯕꯇꯥ - तेजबता - Indian Bay-leaf

ꯇꯣꯢꯗꯤꯡ - तोइदिङ - Sesame Seeds

ꯌꯨꯕꯤ - युबी - Coconut

ꯌꯥꯢꯉꯪ - याइङं - Turmeric

ꯍꯪꯒꯥꯝ - हंगाम - Black Mustard

ꯍꯤꯡ - हीङ - Asafetida

ꯍꯥꯎꯅꯥ - हाओना - Lemon Grass

ꯍꯩꯅꯧ - हैनौ - Mango

ꯍꯩꯖꯥꯡ - हैजाङ - Lemon

ꯍꯣꯞ - होप - Fennel Seeds

ꯎꯁꯤꯡꯁꯥ - उशिङशा - Ceylon Cinnamon

ꯎꯂꯩꯔꯣꯝ - उलैरोम - Annatto

ꯎꯔꯩꯔꯣꯝ - उरैरोम - Annatto

ꯐꯛꯄꯥꯢ - फकपाय - Vietnamese Coriander

ꯐꯗꯤꯒꯣꯝ - फदिगोम - Coriander

ꯑꯋꯥ ꯐꯗꯤꯒꯣꯝ - अवा फदिगोम - Long Coriander

ꯑꯖꯋꯥꯌꯟ - अजवायन - Ajwain Seeds

ꯑꯗꯨꯔ ꯒꯨꯂꯥꯕ - अदुर गुलाब - Damask Rose

ꯑꯦꯂꯥꯏꯆꯤ - एलाइची - Cardamom

ꯒꯨꯂꯥꯕ - गुलाब - Damask Rose

ꯒꯣꯜꯃꯣꯔꯣꯛ - गोलमोरोक - Pepper

ꯕꯗꯥꯝ - बदाम - Almond

ꯖꯤꯔꯥ - जीरा - Cumin Seeds

ꯖꯥꯢꯐꯜ - जायफल - Nutmeg & Mace

मेइतेइ मायेक लिपि का यूनिकोड[संपादित करें]

मेइतेइ मायेक लिपि को यूनिकोड में अक्टूबर २००९ में सम्मिलित किया गया था।

ब्लॉक[संपादित करें]

मितेई मयेक्[1][2]
Official Unicode Consortium code chart (PDF)
  0 1 2 3 4 5 6 7 8 9 A B C D E F
U+ABCx
U+ABDx
U+ABEx
U+ABFx
Notes
1.^ As of Unicode version 10.0
2.^ Grey areas indicate non-assigned code points


विस्तारित मितेई मयेक[1][2]
Official Unicode Consortium code chart (PDF)
  0 1 2 3 4 5 6 7 8 9 A B C D E F
U+AAEx
U+AAFx   ꫶  
Notes
1.^ As of Unicode version 10.0
2.^ Grey areas indicate non-assigned code points


इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Socio-linguistic Situation in North-east India Archived 7 जुलाई 2014 at the वेबैक मशीन., Pauthang Haokip, pp. 62, Concept Publishing Company, 2011, ISBN 9788180697609, ... It should be noted here that Meitei Mayek was used until the eighteenth century ... Recently, the Meitei Mayek was reintroduced again as the writing system of the Manipuris ...