इस्तांबुल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(इस्ताम्बुल से अनुप्रेषित)
Jump to navigation Jump to search
इस्तांबुल
İstanbul
महानगरीय क्षेत्र
देखें कैप्शन
Clockwise from top: The Golden Horn between Galata and the Seraglio Point, with the Princes' Islands on the horizon; nostalgic tram on İstiklal Avenue; skyscrapers of Maslak financial district; the Bosphorus Bridge; and the Sultan Ahmed Mosque
Countryतुर्की
क्षेत्रमर्मरा
प्रान्तइस्तांबुल
 - बाय्ज़ैन्टियमc. 660 BC[a]
 - कुस्तुन्तुनिया330 AD
 - इस्तांबुल1930 (officially)[b]
Districts39
शासन
 • महापौरकादिर तोपबास (एकेपी)
क्षेत्रफल
 • महानगर[c]5343 किमी2 (2,063 वर्गमील)
जनसंख्या (2011)[2]
 • महानगरीय क्षेत्र13
 • घनत्व2523 किमी2 (6,530 वर्गमील)
वासीनामIstanbulite(s)
(Turkish: İstanbullu(lar))
समय मण्डलEET (यूटीसी+2)
 • ग्रीष्मकालीन (दि॰ब॰स॰)EEST (UTC+3)
w:Postal code34000 to 34850
दूरभाष कोड(+90) 212 (European side)
(+90) 216 (Asian side)
वेबसाइटIstanbul Metropolitan Municipality

इतिहास में कस्न्निया के नाम से प्रसिद्ध तुर्की शहर इस्तांबुल (तुर्की: İstanbul) के नाम से जाना जाता है) देश का सबसे बड़ा शहर और उसकी सांस्कृतिक और आर्थिक केंद्र है। शहर राज्य इस्तांबुल राष्ट्रपति स्थान है। आबनाईे बासतुरस और उसकी प्राकृतिक बंदरगाह शाखा मुहाना (तुर्की: Haliç) के किनारे स्थित तुर्की का उत्तर पश्चिमी शहर बासतुरस एक ओर यूरोप क्षेत्र थरेस और दूसरी ओर एशिया के क्षेत्र आना्ऑलियह तक फैला हुआ है इस तरह वह दुनिया का एकमात्र शहर है जो दो महाद्वीपों में स्थित है। इस्तांबुल तारीख़े आलम का एकमात्र शहर जो तीन महान सटिनतों की राजधानी रहा है जिनमें ३३० ई. से ३९५ ई। तक रोमन साम्राज्य, ३९५ ए से १४५३ ई. तक बीजान्टिन साम्राज्य और १४५३ ई. से १९२३ ई। तक राज्य इतमानिया शामिल हैं। १९२३ ई. में तुर्की गणराज्य की स्थापना के बाद राजधानी अंकारा कर दिया गया। २००० की जनगणना के अनुसार शहर की आबादी ८८ लाख 3 हजार ४६८ ए और कल शहरी क्षेत्र की आबादी एक करोड़ १८ हजार ७३५ है इस तरह इस्तांबुल यूरोप का दूसरा सबसे बड़ा शहर है। शहर को २०१० के लिए पैक्स, हंगरी और आसन, जर्मनी के साथ यूरोप की सांस्कृतिक राजधानी घोषित किया गया है। इतिहास में शहर ने निवासियों की संस्कृति, भाषा और धर्म के आधार पर कई नाम बदले जिनमें से बाज़नटियम, कस्न्निया और इस्तांबुल भी जाने जाते हैं। शहर को "सात पहाड़ियों का शहर" कहा जाता है क्योंकि शहर का सबसे प्राचीन क्षेत्र सात पहाड़ियों पर बना हुआ है जहां हर पहाड़ी की चोटी पर एक मस्जिद स्थापित है।

इतिहास[संपादित करें]

बाज़नटियम[संपादित करें]

कस्न्निया, एक चित्रकार की नज़र में।

बाज़नटियम दरअसल मीगारा के यूनानियों ने ६६७ ईसा पूर्व में स्थित था और अपने राजा बाईज़ास के नाम पर बाज़नटियम का नाम दिया। १९६ ए में सीपटीमेस सियोईरस और पीस्कीनियस नाईेजर के बीच युद्ध में शहर का म्षासरह किया गया और उसे भारी नुकसान पहुंचा। जीत के बाद रोमन शासक सीपटीमेस ने बाज़नटियम फिर निर्माण और शहर एक बार फिर खोई हुई महिमा ली।

बीजान्टिन साम्राज्य के शासन[संपादित करें]

जामिया हागिया सोफिया, जिसे अब संग्रहालय के रूप में दी गई है।

बाज़नटियम के आकर्षक स्थान के कारण ३३० ई। में कस्नटियन प्रधानमंत्री ने कथित तौर पर एक सपने से स्थान की सही पहचान के बाद इस शहर को नोवा रोमा (रूम आधुनिक) या कस्न्निया (अपने नाम की तुलना से) के नाम से दोबारा आबाद किया। नोवा रोमा तो कभी सामान्य उपयोग में नहीं आसका लेकिन कस्न्निया अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त की. शहर १४५३ ई। में राज्य इतमानिया के हाथों जीत तक पूर्वी रोमन साम्राज्य की राजधानी रहा। बीजान्टिन शासनकाल के दौरान चौथी क्रूस युद्ध में सलीबियों ने शहर को बर्बाद करदयाआओर १२६१ ई। में माइकल हशतम पीलयूलोगस की द्वारा कमान नीतियाई सेना ने शहर को फिर से हासिल कर लिया।

रोम और पश्चिमी रोमन साम्राज्य के पतन के बाद शहर का नाम कस्न्निया रख दिया गया और बीजान्टिन साम्राज्य का एकमात्र राजधानी घोषित पाया। यह राज्य यूनानी संस्कृति के अलमबरदार और रोम से अलगाव के बाद यूनानी आरथोडोकस ईसाई का केंद्र बन गई। बाद यहां कई महान गिरजे और चर्च निर्माण हुए जिनमें विश्व का सबसे बड़ा चर्च आयादफया भी शामिल था जिसे सुल्तान मोहम्मद विजेता ने जीत कस्न्निया के बाद मस्जिद में बदल दिया। इस शहर के जबरदस्त स्थान की वजह से यह कई जबरदस्त म्षासरों के बावजूद जीत नहीं सका जिनमें खिलाफ़त आमोया के दौर के म्षासरे और राज्य इतमानिया के शुरुआती दौर के कई असफल म्षासरे हैं।

राज्य इतमानिया का दौर[संपादित करें]

२९ मई १४५३ ई। को सुल्तान मोहम्मद विजेता ने ५३ दिवसीय म्षासरे के बाद कस्न्निया को जीत लिया। म्षासरे के दौरान उस्मान सेना की तोपों से थीओडोसस समीक्षा की स्थापित दीवारों को भारी नुकसान पहुंचा। इस तरह इस्तांबुल बरोसह और आदरना के बाद राज्य इतमानिया का तीसरा राजधानी बन गया। तुर्की जीत के बाद अगले सालों में तोप कअपी महल और बाजार की शानदार निर्माण प्रक्रिया में आईं. धार्मिक निर्माण में विजेता मस्जिद और उससे सटे मदरसों और हमाम शामिल थे। उस्मान दौर में शहर विभिन्न धर्मों और संस्कृतियों का केंद्र रहा और मुसलमान, ईसाई और यहूदी सहित विभिन्न धर्मों से संबंध रखने वालों के प्रभाव संख्या यहां बसे रही। सुलैमान प्रधानमंत्री अवैध दूर निर्माण और कला का गहन दौर था जिसके दौरान विशेषज्ञ पमईरान स्नान पाशा ने शहर में कई महान मस्जिद और इमारतों निर्माण कीं।

गणतंत्र तुर्की[संपादित करें]

ब्रिज रुटिह से शाखा सुनहरा एक आकर्षक दृश्य।

१९२३ ई। में तुर्की गणराज्य की स्थापना के बाद राजधानी इस्तांबुल से अंकारा कर दिया गया। उस्मान दौर में शहर का नाम कस्न्निया मौजूद रहा जबकि राज्य से बाहर उसे आस्तामबोल के नाम से जाना जाता था लेकिन १९३० में गणतंत्र तुर्की ने इसका नाम बदलकर इस्तांबुल दिया। गणतंत्र के शुरुआती दौर में अंकारा की तुलना में इस्तांबुल पर अधिक ध्यान नहीं दिया गया लेकिन १९५० और १९६० ई। के दशक में इस्तांबुल में भारी बदलाव स्थित हुई। शहर की यूनानी समुदाय १९५५ ए के तहत तुर्की छोड़कर ग्रीस चली गई। १९५० के दशक में अदनान मेनदरेस सरकार के दौरान देश विकास के लिए कई काम किए गए और देश भर में नई सड़कें और कारखाने निर्माण हुए। इस्तांबुल में आधुनिक विशाल शाहराहीं स्थापित है लेकिन दुर्भाग्य से यह सौदा शहर की प्राचीन इमारतों के बदले में गया और इस्तांबुल कई प्राचीन इमारतें से वंचित हो गया। १९७० ई। के दशक में शहर के मजाफ़ात में स्थापित नए कारखानों में नौकरी के उद्देश्य से देश भर से जनता की बहु संख्या इस्तांबुल पहुंची जिसने शहर की आबादी में तेजी से वृद्धि हुई। आबादी में तेजी से वृद्धि के बाद निर्माण क्षेत्र में भी क्रांति आया कई उपनगरीय गांवों विस्तार पाते हुए शहर में शामिल हो गए।

स्थान[संपादित करें]

इस्तांबुल आबनाईे बासतुरस दक्षिण क्षेत्र में दोनों ओर स्थित है इस तरह वह दो महाद्वीपों में स्थित दुनिया का एकमात्र शहर है। शहर का पश्चिमी हिस्सा यूरोप जबकि पूर्वी भाग एशिया में है। शहरी सीमा एक हजार ५३९ वर्ग किलोमीटर तक है जबकि राज्य इस्तांबुल ५ हजार २२० वर्ग किलोमीटर परमही् है।

भूविज्ञान[संपादित करें]

इस्तांबुल उत्तर आना्ओलियह की भूकंप की पट्टी के पास स्थित है जो उत्तरी आना्ओलियह से सागर मरमरह तक जाती है। अफ्रीका और ीवरीशीन प्लेट यही पर मिलती हैं। इस भूकंप की पट्टी के कारण क्षेत्र ज़ल्सलों का केंद्र है। १५०९ ई. में एक भूकंप में सूनामी हुआ जिसमें १० हजार लोग मारे गए और १०० से अधिक मस्जिदों नष्ट हुई। १७६६ ई. में अय्यूब मस्जिद पूरी तरह शहीद हो गई। १८९४ ई। के भूकंप में इस्तांबुल के ढके हुए बाजार का अधिकांश हिस्सा तबाह हो गया। अगस्त १९९९ के विनाशकारी भूकंप के नतेजद में १८ हज़ार २००१ के सर्दियों में ४१ लोग मारे गए। शहर में गर्मी गर्म और परनम जबकि सर्दियों में बारिश और कभी कभी बर्फ बारी के साथ गंभीर सर्दी पड़ती है। शहर में वार्षिक औसत ८७० मिमी बारिश होती है। सर्दियों के दौरान औसतन तापमान ७ से ९ डिग्री सेमी अंक तक रहता है जिसके दौरान बर्फ बारी भी आमतौर होती रहती है। जून से सितंबर तक गर्मी के दौरान दिन में औसत तापमान २८ डिग्री सेमी अंक रहता है। साल कागरम सबसे महीना जून है जिसमें औसत तापमान २३.२ डिग्री सेमी अंक है जबकि साल का ठंडा सबसे महीना जनवरी है जिसका औसत तापमान ५०४ डिग्री सेमी अंक है। शहर में सबसे अधिक तापमान अगस्त २००० में ४०.५ डिग्री सेमी ग्रेड रिकार्ड किया गया।

शहर संग[संपादित करें]

A high concentration of fault lines in northwestern Turkey, where the Eurasian and African plates meet; a few faults and ridges also appear under the Mediterranean
Faults in western Turkey are concentrated just southwest of Istanbul, passing under the Sea of Marmara and the Aegean Sea.
Satellite image showing a thin piece of land, densely populated on the south, bisected by a waterway
Satellite view of Istanbul and the Bosphorus strait

इस्तांबुल के जिलों को तीन मुख्य क्षेत्रों में विभाजित है: प्राचीन कस्न्निया का ऐतिहासिक द्वीप नुमा आमीनूनो और विजेता के जिलों परमशतमल है। उस्मान दूर के अंत में इस्तांबुल कहलाया जाने वाला यह क्षेत्र शाखा सुनहरा दक्षिण तट परकाईम है जो प्राचीन शहर के केंद्र को यूरोपीय क्षेत्र के उत्तरी क्षेत्रों से अलग करती है। इस द्वीप नुमा के दक्षिण की ओर से सागर मरमरह और पूर्व में बासतुरस ने घेरा हुआ है। शाखा सुनहरा के उत्तर में ऐतिहासिक का आओगलो और बशक्शआ के जिलों स्थित हैं जहां अंतिम सुल्तान का महल स्थित है। उनके बाद बासतुरस के तट के साथ आराकोए और बेबक पूर्व गांव स्थित हैं। बासतुरस के यूरोपीय और एशियाई दोनों ओर इस्तांबुल के आमराय ने परपेश आवासीय मकान निर्माण कर रखा है जिन्हें ईआली कहा जाता है। उनके घरों को गर्मी आवास के रूप पुरासपमाल है। आस्कोदार और काजी कोए शहर के एशियाई हिस्से हैं जो दरअसल मुक्त शहर थे। आज यह आधुनिक आवासीय और व्यावसायिक क्षेत्रों में शामिल है और इस्तांबुल की लगभग एक तिहाई आबादी यहां आवास पज़ीरहे। कार्यालय और आवास शामिल बुलंद इमारतों यूरोपीय भाग के उत्तर क्षेत्र में स्थित हैं जिनमें खासकर लयूनत, मसलाक और आतीलर क्षेत्र शामिल हैं बासतुरस और विजेता सुल्तान मोहम्मद पुलों के बीच स्थित है।

आबादी में वृद्धि[संपादित करें]

इस्तांबुल की आबादी १९८० से २००५ के २५ वर्षीय अवधि के दौरान तीन गुना से भी ज़्यादा हो गई है। अनुमानित ७० प्रतिशत से अधिक नागरिक इस्तांबुल के यूरोपीय हिस्से में जबकि ३० प्रतिशत एशियाई हिस्से में रहते हैं। दक्षिण पूर्वी तुर्की में बेरोजगारी में वृद्धि के कारण क्षेत्र के लोगों के बहुमत इस्तांबुल हिजरत गयी जहां वह शहर के पास क्षेत्रों गाजियाबाद उस्मान पाशा, ज़िया गोक आलप व अन्य में रहने विकासशील गई।

साल आबादी
330 वर्ष 40,000
440 वर्ष 4,00,000
530 वर्ष 550,000
545 वर्ष 350,000
715 वर्ष 300,000
950 वर्ष 4,00,000
1200 वर्ष 150,000
1453 वर्ष 36,000
1477 वर्ष 75,000
1566 वर्ष 600,000
1817 500,000
1860 वर्ष 715,000
1885 वर्ष 873,570
1890 वर्ष 874,000
1897 वर्ष 1,059,000
1901 वर्ष 942,900
1914 वर्ष 909,978
अक्टूबर 1927 वर्ष 680,857
अक्टूबर 1935 वर्ष 741,148
अक्टूबर 1940 वर्ष 793,949
अक्टूबर 1945 वर्ष 860,558
अक्टूबर 1950 983,041
अक्टूबर 1955 वर्ष 1,268,771
अक्टूबर 1960 वर्ष 1,466,535
अक्टूबर 1965 वर्ष 1,742,978
अक्टूबर 1970 वर्ष 2,132,407
अक्टूबर 1975 2,547,364
अक्टूबर 1980 2,772,708
अक्टूबर 1985 वर्ष 5,475,982
अक्टूबर 1990 6,620,241
नवम्बर 1997 8,260,438
अक्टूबर 2000 8,803,468
जनवरी 2005 9,797,536
जनवरी 2006 10,034,830

शिक्षा[संपादित करें]

तुर्की में उच्च शिक्षा के लिए संस्थानों से कुछ इस्तांबुल में स्थित हैं जिनमें सरकारी व निजी विश्वविद्यालयों सहित। अक्सर प्रसिद्ध विश्वविद्यालयों सरकारी लेकिन हाल कुछ वर्षों में निजी विश्वविद्यालयों की संख्या में की गई है। प्रमुख सरकारी विश्वविद्यालयों में इस्तांबुल तकनीकी जामिया, बासतुरस जामिया, रुटिह सराय जामिया, इस्तांबुल जामिया, मार्मरह जामिया, ईलदीज़ तकनीकी जामिया और निर्माता स्नान कला जामिया शामिल हैं।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. सन्दर्भ त्रुटि: <ref> का गलत प्रयोग; roo177 नाम के संदर्भ में जानकारी नहीं है।
  2. सन्दर्भ त्रुटि: <ref> का गलत प्रयोग; tuik नाम के संदर्भ में जानकारी नहीं है।


सन्दर्भ त्रुटि: "lower-alpha" नामक सन्दर्भ-समूह के लिए <ref> टैग मौजूद हैं, परन्तु समूह के लिए कोई <references group="lower-alpha"/> टैग नहीं मिला। यह भी संभव है कि कोई समाप्ति </ref> टैग गायब है।